उत्तर प्रदेश दिल्ली देश मनोरंजन राजनीती होम

‘ये कुछ नहीं कर सकती’…….Smriti Irani का हाथ देख बोले थे पंडित-

बॉलीवुड अभ‍िनेत्री और केंद्रीय मंत्री स्‍मृत‍ि ईरानी का आज जन्‍मद‍िन है। साल 2000 में सीरियल ‘आतिश’ और ‘हम हैं कल आज और कल’ से अभिनय की दुन‍िया में एंट्री लेने वाली स्‍मृत‍ि ईरानी इस समय भारत सरकार में सूचना-प्रसारण और टेक्‍सटाइल मंत्री हैं। अब स्‍मृत‍ि पूरी तरह राजनीत‍ि में आ गई हैं और पर्दे की दुन‍िया से दूर हो गई हैं।

स्‍मृत‍ि ईरानी इस समय मोदी सरकार की ताकतवर मंत्री मानी जाती हैं। उन्‍होंने 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अमेठी से टक्‍कर दी थी हार के बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्‍हें मंत्री बनाया था राजनीत‍ि से पहले स्‍मृत‍ि अभ‍िनय के क्षेत्र में थीं और उन्‍हें एकता कपूर के सीरियल ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ से घर घर में पहचान म‍िली। इस सीर‍ियल के दौरान स्‍मृत‍ि को असली नाम के बजाय उनके क‍िरदार के नाम तुलसी वि‍रानी के नाम से जाननने लगे थे।

एक समय था जब घर घर में स्‍मृत‍ि ईरानी की दीवानगी इस कदर थी क‍ि उनके सीर‍ियल के टाइम पर लोग टीवी से च‍िपक जाते थे। स्‍मृत‍ि को पहचान म‍िली थी एकता कपूर के सीरियल ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ से। इस सीर‍ियल के दौरान स्‍मृत‍ि को असली नाम के बजाय उनके क‍िरदार के नाम तुलसी वि‍रानी के नाम से जाननने लगे थे।

अभिनय और उसके बाद राजनीत‍ि के श‍िखर पर पहुंची स्‍मृति ईरानी के बारे में एक पंडित ने कहा था क‍ि यह लड़की जीवन में कुछ नहीं कर पाएगी। दरअसल, स्‍मृति जब छोटी थीं तो उनके माता-पिता ने अपनी बेटियों का भविष्‍य पता करने के लिए घर पर एक पंडित को बुलाया। पंडित ने जैसे ही कहा कि बड़ी लड़की (स्‍मृत‍ि ईरानी) का कुछ नहीं होगा तो स्‍मृति ने उन्‍हें चुनौती देते हुए कहा कि आज से 10 साल बाद आप मुझसे मिलना।

स्‍मृति के माता-पिता को भी नहीं मालूम था कि स्‍मृति के लिए कौन सा करियर अच्‍छा रहेगा और उन्‍होंने कभी भी इस बारे में स्‍मृति से बात ही नहीं की थी। इन हालातों में स्‍मृति ने अपना बैग पैक कियाऔर मुंबई आ गईं। इस चुनौती के बाद स्‍मृत‍ि ने अभ‍िनय की द‍िशा में कद बढाया और बाद में राजनीत‍ि में आ गईं।