Breaking News उत्तर प्रदेश देश राजनीती होम

अखिलेश यादव ने डाकू ददुआ के बेटे को खजुराहो लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाया

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने डाकू ददुआ के बेटे को खजुराहो लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाया है। अखिलेश यादव के इस दांव से यूपी में सियासत गर्मा गई है। 

चित्रकूट सदर के पूर्व विधायक ददुआ के बेटे वीर सिंह पटेल सपा के टिकट पर खजुराहो से लोकसभा चुनाव लड़ेंगें। लखनऊ में मंगलवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुलाकर उन्हें यह जिम्मेदारी सौंपी। 2007 में एक मुठभेड़ में डाकू ददुआ के मारे जाने के बाद उसका परिवार सक्रिय राजनीति में आया और छोटे भाई बालकुमार 2009 के लोकसभा चुनाव में मिर्जापुर सीट से सांसद हुए।

वीर सिंह को लोकसभा चुनाव लड़ाने के पीछे कुर्मी वोट को साधना भी सपा का दांव है। बांदा लोकसभा सीट में सपा-बसपा गठबंधन से उद्योगपति श्यामाचरण गुप्ता, भाजपा से आरके पटेल, कांग्रेस से पूर्व विधायक के चाचा सपा सांसद रहे बालकुमार पटेल चुनाव मैदान में हैं l

साथ ही खजुराहो का चुनाव भी वीर सिंह पटेल के पहुंचने से दिलचस्प हो जाएगा और इसका फायदा भी आसपास की कई सीटों पर मिलने की उम्मीद है। मिनी चंबल के नाम से चर्चित पाठा के बीहड़ में दस्यु ददुआ ने तीन दशक तक समानांतर सरकार चलाई थी।

बालकुमार का बेटा राम सिंह पटेल 2012 के विधानसभा चुनाव में प्रतापगढ़ जिले की पट्टी सीट से विधायक हुआ, जबकि ददुआ के बेटे वीर सिंह चित्रकूट जिले की कर्वी सदर सीट से विधायक चुने गए। इसके पहले वीर सिंह पिता ददुआ की हनक की बदौलत साल 2000 में चित्रकूट जिला पंचायत के निर्विरोध अध्यक्ष भी चुने गए थे।