देश होम

पुलवामा का पहला बदला, जैश के नंबर-2 आतंकी का हुआ खात्मा

पुलवामा का पहला बदला, जैश के नंबर-2 आतंकी का हुआ खात्मा

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 40 सीआरपीएफ जवानों की मौत का पहला बदला आखिरकार सेना ने ले लिया. सुरक्षाबलों ने भी जैश-ए-मोहम्मद के दो कमांडरों को 11 घंटे की मुठभेड़ के बाद मार गिराया. सेना ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी गाजी राशिद उर्फ कामरान को मार गिराया है. गाजी को मसूद अजहर का डिप्टी और जैश-ए-मोहम्मद में नंबर-2 आतंकी माना जाता था. रात 1.30 बजे शुरू हुई मुठभेड़ में कई घंटों तक फायरिंग होती रही. फिर सुरक्षाबलों ने उस पूरी बिल्डिंग को ही उड़ा दिया जहां आंतकी छिपे बैठे थे. आतंकी कामरान उर्फ गाजी राशिद इस एनकाउंटर में ढेर हो चुका है. वह पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड था. उसने ही सीआरपीएफ काफिले पर आत्मघाती हमले की साजिश रची थी और सुसाइड बॉम्बर आदिल को प्रशिक्षण दिया था. बताया जा रहा है कि सेना को पुलवामा के पिंगलिना में आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली थी. इसके बाद 55 राष्ट्रीय रायफल्स, सीआरपीएफ और एसओजी ने घेरकर रात भर में उन्हें मार गिराया. इस मुठभेड़ में सुरक्षाबल के 4 जवान शहीद हो गए. इनमें एक मेजर रैंक का अफसर भी शामिल है. शहीद हुए जवानों में मेजर डीएस डोंडीयाल, हेड कॉन्स्टेबल सेव राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरी सिंग हैं. सूत्रों के मुताबिक़, आतंकी गाजी एक घर के अंदर छिप कर लगातार फायरिंग कर रहा था. सेना ने उसे घेरा और जमकर फायरिंग की. रात में कुछ देर फायरिंग रोक दी गई, लेकिन सुबह अचानक आतंकियों ने दोबारा फायर किए. इसमें 4 जवान शहीद हो गए. बताया जा रहा है कि हमले का मास्टर माइंड गाजी रशीद लोगों की आड़ में घरों में छिपा हुआ था. वह पिछले साल कथित तौर पर घुसपैठ कर दक्षिणी कश्मीर में पहुंचा और यहीं से वह कई आतंकी वारदातों को अंजाम देने में सफल रहा था. एनकाउंटर ख़त्म होने के बाद कुछ ही देर में पत्थरबाज सड़कों पर उतर आए. सेना उन्हें वापस भेजने की अपील की है. लेकिन उन्होंने पत्थरबाजी शुरू कर दी.लोग घटनास्थल पर पहुंचकर सेना पर पत्थर बरसा रहे हैं और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे हैं. सेना लगातार उन्हें हटने की अपील कर रही है लेकिन भीड़ जुटी हुई है. एनकाउंटर में मास्टरमाइंड अब्दुल रशीद गाजी के साथ आतंकी हिलाल भी मारा गया है. वह पुलवामा का रहने वाला था और आतंकी गतिविधियों में लिप्त था. पुलिस को एके 47 समेत कई हथियार मौके से बरामद हुए हैं.