देश राजनीती होम

पहली बार भारत आ रहे सऊदी प्रिंस सलमान, कर सकते हैं बड़े कारोबारी ऐलान

सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान भारत और पाकिस्तान की यात्रा पर आने वाले हैं। कूटनीतिक और राजनीतिक लिहाज से महत्वपूर्ण होने के साथ ही प्रिंस की इस यात्रा के कारोबारी मायने भी बहुत अधिक हैं। प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान इस विजिट के दौरान भारत और पाकिस्तान में बड़े निवेश के ऐलान कर सकते हैं। 19 फरवरी को दो दिवसीय यात्रा पर पहुंच रहे मोहम्मद बिन सलमान का यह पहला भारत दौरा है। सूत्रों के मुताबिक इस यात्रा के दौरान क्राउन प्रिंस एनर्जी और इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में निवेश का ऐलान कर सकते हैं। इस निवेश के जरिए सऊदी अरब अपनी इकॉनमी की भी तेल पर निर्भरता कम करने का प्रयास करेगा। मोहम्मद बिन सलमान के इस यात्रा के दौरान चीन, मलयेशिया और इंडोनेशिया जाने की भी योजना है। तुर्की के इस्ताम्बुल स्थित सऊदी दूतावास में वॉशिंगटन पोस्ट के पत्रकार जमाल खशोगी की जघन्य हत्या के बाद से क्राउन प्रिंस की यह पहली विदेश यात्रा है।

पाकिस्तानी अधिकारियों ने बताया कि इस सप्ताह के आखिर में अपनी यात्रा के दौरान क्राउन प्रिंस रिफाइनरी और पावर सेक्टर में कई निवेश परियोजनाओं पर करार कर सकते हैं। सऊदी अरब की सरकारी न्यूज एजेंसी एसपीए ने बताया कि एमओयू में रीन्यूएबल एनर्जी प्रॉजेक्ट्स, पेट्रोकेमिकल्स और मिनरल रिसोर्सेज को लेकर भी करार हो सकते हैं।

इसके बाद अगले सप्ताह क्राउन प्रिंस के दिल्ली आएंगे। मोहम्मद बिन सलमान की इस यात्रा में उनके साथ सऊदी कारोबारियों का एक प्रतिनिधिमंडल भी रहेगा। विदेश मंत्रालय के मुताबिक सऊदी क्राउन प्रिंस पीएम नरेंद्र मोदी के आमंत्रण पर प्रतिनिधिमंडल के साथ आ रहे हैं।

बीते साल नवंबर में पीएम मोदी से हुई थी मुलाकात

गौरतलब है कि बीते साल नवंबर में अर्जेंटीना में ही हुई जी-20 समिट के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी और क्राउन प्रिंस की मुलाकात हुई थी। भारत को कच्चे तेल की आपूर्ति करने में सऊदी अरब का पहला स्थान है और बीते कुछ सालों में दोनों देशों के बीच एनर्जी के अलावा रणनीतिक संबंध भी मजबूत हुए हैं।