देश होम

जैसलमेर: फुल ड्रेस र‍िहर्सल से पहले मिग 27 व‍िमान दुर्घटनाग्रस्त

प्रतीकात्मक फोटो

भारतीय वायुसेना का मिग 27 लड़ाकू विमान मंगलवार शाम इंजन में तकनीकी खराबी आने के कारण जैसलमेर की पोखरण फायरिंग रेंज में दुर्घटनाग्रस्त होकर क्रैश हो गया. दुर्घटना से विमान का मलबा करीब 3 किलोमीटर क्षेत्र में फैल गया. विमान का पायलट सुरक्षित बाहर न‍िकलने में कामयाब रहा. इसमें किसी प्रकार के जान-माल के नुकसान होने की कोई जानकारी नहीं मिली है.

वायुसेना ने कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के आदेश दिये हैं. यह विमान आगामी 16 फरवरी को भारतीय वायुसेना के फायर पावर डेमोन्स्ट्रेशन के लिए ट्रेनिंग मिशन में था. वायुसेना ने पूरे क्षेत्र को घेर लिया हैं. उच्च अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं. यह विमान जोधपुर एयरबेस से 5.20 पर उड़ा था और 6:10 पर रामदेवरा में दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

3 क‍िमी के इलाके में फैल गए टुकड़े

आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, भारतीय वायुसेना के एक मिग 27 लड़ाकू विमान ने अपने ट्रेनिंग मिशन के लिए जोधपुर वायुसेना बेस से उड़ान भरी थी. इस विमान को पोखरण  फायरिंग रेंज में अपने मिशन को अंजाम देना था. उड़ान के दौरान विमान में तकनीकी खराबी का अहसास होने पर विमान चालक ने इजेक्ट होकर विमान को सुनसान क्षेत्र में मोड़ दिया. इसी दौरान विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया तथा उसमें जबरदस्त विस्फोट हुआ. उसके टुकड़े पोखरण फायरिंग रेंज में खेतोलाई गांव से करीब 3 किलोमीटर दूर सुनसान इलाके में गिरे.

इसकी पुष्टि करते हुए खेतोलाई सरपंच नाथूराम ने बताया कि खेतोलाई से करीब 3 किलोमीटर दूर सुनसान रेतीले इलाके में जोरदार धमाके के साथ विमान नीचे आकर गिरा. किसी प्रकार के कोई नुकसान की जानकारी नही हैं. धमाका और रेत का गुबार इस तरह उड़ा जैसे कोई न्यूक्लियर टेस्ट का धमाका हो.

एसडीएम पोखरण व पुलिस अधिकारी मौके के लिए रवाना

जिला कलेक्टर नमित मेहता ने भी इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पोखरण फायरिंग रेंज में घटना घटित हुई है. पायलट ने इजेक्ट को सफलता पूर्वक किया है. किसी प्रकार के नुकसान की कोई जानकारी नही हैं. एसडीएम पोखरण व पुलिस अधिकारियों को मौके के लिए रवाना किया गया है.

डिफेंस स्पोकमैन संभित घोष ने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया क‍ि म‍िग 27 विमान अपने रूटीन ट्रेनिंग मिशन में था, इसी दौरान तकरीबन 6.10 पर विमान क्रेश हो गया. पायलट इजेक्टली सेफ है. वायुसेना ने कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के आदेश दिए हैं.

गौरतलब हैं कि भारतीय वायुसेना का फायर पॉवर डेमोंस्ट्रेशन 16 फरवरी को प्रस्तावित है. उसका फुल ड्रेस रिहर्सल 14 फरवरी को आयोजित होना है. यह विमान उसी संदर्भ में अपने ट्रेनिंग मिशन पर था.