उत्तर प्रदेश देश राजनीती होम

रोडशो से पहले प्रियंका का मैसेज, आ रही हूं लखनऊ, मिलकर नई राजनीति करेंगे

प्रियंका गांधी वाड्रा (तस्वीर- PTI)

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी सोमवार से उत्तर प्रदेश के 4 दिनों के दौरे पर हैं. सियासत में फुलटाइम एंट्री के बाद प्रियंका गांधी पहली बार मिशन यूपी पर जा रही हैं. प्रियंका सोमवार को लखनऊ में मेगा रोड शो के साथ मिशन यूपी का आगाज करेंगी. उनके दौरे से पहले यूपी की राजधानी लखनऊ कांग्रेस के बैनर-पोस्टर से पटी पड़ी है. जानकारी के मुताबिक प्रियंका 9 घंटे मेगा रोड शो तक करेंगी. इन 72 घंटों में प्रियंका 42 लोकसभा सीटों पर मंथन करेंगी और चुनावी रणनीति तैयार करेंगी.

उनके दौरे से पहले कांग्रेस के नेताओं की गर्मजोशी देखने लायक है. अमौसी एयरपोर्ट से लेकर लखनऊ के कांग्रेस दफ्तर तक बैनर-पोस्टर से रास्ते को पाट दिया गया है. प्रियंका गांधी वाड्रा सोमवार को लखनऊ दौरे पर आ रही हैं. उनके साथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और ज्योतिरादित्य सिधिंया भी मौजूद होंगे. कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक प्रियंका गांधी का काफिला शहर के तीन दर्जन इलाकों से गुजरेगा. हर चौक चौराहों पर प्रियंका का काफिला रुकेगा, जहां वो महापुरुषों के तस्वीरों पर माल्यापर्ण करेंगी.

प्रियंका गांधी के आने से लखनऊ का कांग्रेस दफ्तर भी संवर गया है. सालों बाद दफ्तर की रौनक लौटी है. रंग-रोगन के अलावा दफ्तर में नया हॉर्डिंग लगा है. प्रदेश दफ्तर में प्रियंका का कमरा भी तैयार किया गया है. ऐसा पहली बार होगा जब हाल के दिनों में कांग्रेस का कोई यूपी प्रभारी एक दिन में 13-14 घंटे दफ्तर में कार्यकर्ताओं से मिलेगा और चुनावी रणनीति बनाएगा.

मिशन यूपी से पहले प्रियंका गांधी ने एक ऑडियो मैसेज जारी किया है जिसमें उन्होंने कहा, ‘मैं प्रियंका गांधी वाड्रा, कल आप सब से मिलने लखनऊ आ रही हूं. मेरे दिल में आशा है कि हम सब मिलकर एक नई राजनीति की शुरुआत करेंगे. एक ऐसी राजनीति जिसमें आप सब भागीदार होंगे. मेरे युवा दोस्त, मेरी बहनें और सबसे कमजोर व्यक्ति, सबकी आवाज सुनाई देगी. आइए, मेरे साथ मिलकर, इस नई राजनीति का निर्माण करें.’

प्रियंका ने 12 और 13 फरवरी को हर लोकसभा सीट के लिए एक-एक घंटे तय किए हैं. इस दौरान स्थानीय नेता सीधे प्रियंका गांधी से मुलाकात करेंगे. दौरे के आखिरी दिन यानी 14 फरवरी को सुबह 10 बजे से बैठक होगी. प्रियंका सबसे पहले सीतापुर के लोगों से मुलाकात करेंगी. इस दौरे में वो घोसी, आजमगढ़, जौनपुर और बलिया के लोगों से भी रूबरू होंगी.

माना जा रहा है कि प्रियंका का असली दौरा 18 फरवरी से शुरू होगा, जब वो मिशन पूर्वी यूपी पर निकलेंगी. यह दौरा पूरे 30 दिनों का होगा. खास बात यह है कि प्रियंका के इस दौरे में वो सबकुछ होगा जिसपर पूरे देश की नजर है. इस दौरान वो अयोध्या भी जाएंगी. मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी हुंकार भरेंगी और योगी के गढ़ गोरखपुर में भी अपनी धमक दिखाएंगी.

समझना मुश्किल नहीं कि कांग्रेस किस काट की तैयारी में है. बीजेपी की सबसे बड़ी ताकत राम पर कांग्रेस की दावेदारी की रणनीति क्या रंग लाएगी यह भी देखने लायक होगा. राहुल के मंदिर-मंदिर मत्था टेकने के बाद कांग्रेस का ये दूसरा अहम दांव साबित हो सकता है.

अपने दौरे से एक दिन पहले यूपी के शराब कांड पर प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा. रविवार को प्रियंका ने साफ किहा कि योगी सरकार के नाक के नीचे अवैध शराब कारोबारी खुल्लम खुल्ला खेल खेल रहे थे. प्रियंका ने अपने बयान में लिखा है कि मैं ये जानकर स्तब्ध और बेहद दुखी हूं कि जहरीली शराब से उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में 100 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है. यह दिल दहला देने वाली घटना है, इसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है.

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश सरकार की सरपरस्ती में अवैध शराब का इतना बड़ा कारोबार चल रहा था, जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती. मैं उम्मीद करती हूं कि बीजेपी सरकार अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी. मृतकों के परिवार को उचित मुआवजा और सरकारी नौकरी दी जानी चाहिए.