देश राजनीती होम

नितिन गडकरी को लेकर चिंतित हैं शरद पवार, खुद किया खुलासा

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और शरद पवार (फाइल फोटो)

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार ने केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी को लेकर चिंता जाहिर की है. उन्होंने शनिवार को कहा कि गडकरी के लिए वह चिंतित हैं क्योंकि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संभावित विकल्प के रूप में पेश किया जा रहा है. गडकरी हाल ही में उस समय सुर्खियों में थे, जब वह तीन राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के बाद अपनी ही पार्टी बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व पर कटाक्ष करते हुए दिखे थे. साथ ही कुछ दिन पहले उन्होंने कहा था कि जो घर नहीं संभाल सकता, वह देश क्या संभालेगा. गडकरी की इस टिप्पणी को भी बीजेपी नेतृत्व पर तंज के तौर पर देखा गया.

बहरहाल, महाराष्ट्र के शोलापुर में पत्रकारों से बातचीत में पवार ने कहा, ‘गडकरी मेरे दोस्त हैं. हम लोगों ने साथ काम किया है. उनका नाम (मोदी के विकल्प के रूप में) पेश किया जा रहा है और यही कारण है कि मैं उनके लिए चिंतित हूं.’ हालांकि पवार ने इस बारे में और कुछ नहीं कहा. साथ ही एनसीपी प्रमुख ने इस दौरान यह भी साफ कर दिया कि राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के साथ उनकी पार्टी गठबंधन को लेकर कोई बात नहीं कर रही है.

राहुल गांधी भी कर चुके हैं तारीफ

शरद पवार से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी नितिन गडकरी की तारीफ कर चुके हैं. असल में, गडकरी के हाल के कुछ बयानों की पृष्ठभूमि में राहुल गांधी ने 4 फरवरी 2019 को उनकी तारीफ की थी. राहुल गांधी का कहना था कि बीजेपी में गडकरी इकलौते ऐसे नेता हैं जिनमें कुछ साहस है और ऐसे में उन्हें राफेल, किसानों और बेरोजगारी के मुद्दों पर भी बोलना चाहिए.

राहुल गांधी ने गडकरी के बयान से जुड़ी खबर शेयर करते हुए ट्वीट कर कहा था, ‘गडकरी जी, आपकी सराहना करता हूं. आप बीजेपी में इकलौते हैं जिनमें कुछ साहस है. कृपया आप (गडकरी) राफेल घोटाले और अनिल अंबानी, किसानों की पीड़ा और संस्थाओं को नष्ट किए जाने पर भी टिप्पणी करिए.’ एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ओह, गडकरी जी. माफी चाहता हूं. मैं सबसे महत्वपूर्ण विषय-नौकरी को भूल गया था.’ उस दौरान राहुल गांधी ने जो खबर शेयर की है उसके मुताबिक गडकरी ने कहा है कि जो अपना परिवार नहीं संभाल सकता, वह देश क्या संभालेगा.

गौरतलब है कि गडकरी ने हाल के दिनों में ऐसे कुछ बयान दिए हैं जिसे विपक्षी दलों और मीडिया के एक वर्ग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाने के तौर पर देखा जा रहा है, हालांकि गडकरी एक निजी टीवी चैनल से बातचीत में इससे साफ इनकार कर चुके हैं. उन्होंने कहना था कि उनके बयानों को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है.