देश होम

डॉक्टर ने की ड्राइवर की हत्या, आरी से गर्दन काटकर किए 500 टुकड़े

हत्या के आरोपी डॉक्टर सुनील मंत्री.

मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में एक डॉक्टर ने अपने ड्राइवर की आरी से गर्दन काटकर हत्या कर दी. इसके बाद उसने शव के 500 से ज्यादा टुकड़े किए और उन्हें ड्रम में डालकर एसिड से गला दिया. बताया जा रहा है कि ड्राइवर की पत्नी से डॉक्टर के अवैध संबंध थे. इस बात को लेकर ड्राइवर डॉक्टर को ब्लैकमेल कर रहा था.

बता दें कि इटारसी के सरकारी अस्पताल में हड्डी रोग विशेषज्ञ के तौर पर आरोपी डॉ. सुनील मंत्री (55) पदस्थ है. उसने ड्राइवर वीरेंद्र पचौरी उर्फ वीरू (30) को चार दिन पहले ही नौकरी पर रखा था.

4 फरवरी को वीरू काम पर आया तो उसके दांत में दर्द था. डॉक्टर ने इलाज के बहाने उसे बेहोशी का इंजेक्शन लगाया और आरी से गर्दन काटकर अलग कर दी. इसके बाद धड़ को बाथरूम में ले जाकर छोटे-छोटे टुकड़े किए और एसिड भरे ड्रम में डालता रहा.

डॉक्टर के थे ड्राइवर की पत्नी से अवैध संबंध…

पुलिस ने बताया कि डॉ. सुनील मंत्री की पत्नी सुषमा की मौत हो चुकी है. पहले सुषमा बुटिक चलाती थी. यहां पर वीरू की पत्नी काम करती थी. सुषमा से नजदीकी होने के कारण उसकी मौत के बाद वीरू की पत्नी बुटिक संभालने लगी. इसी दौरान डॉक्टर और वीरू की पत्नी के बीच संबंध बने. बताया जा रहा है कि अवैध संबंधों की खबर वीरू को जैसे ही पता लगी तो वह डॉक्टर को ब्लैकमेल करने लगा.

डॉक्टर ने बहाने से वीरू को चार दिन पहले नौकरी पर रखा. उसने एक-एक कर एसिड की बोतल जमा की और और हत्या के लिए आरियां खरीद ली. फिर उसे बेहोशी का इंजेक्शन लगाकर आरी से गर्दन काटकर अलग कर दी.

ब्लैकमेल करता था वीरू…

एसपी अरविन्द सक्सेना ने बताया कि वीरू की पत्नी से डॉक्टर के अवैध संबंध थे. इस वजह से वीरू एक साल से डॉक्टर को ब्लैकमेल कर रहा था. पुलिस को कॉल रिकॉर्डिंग हाथ लगी है जिसमें ब्लैकमेलिंग की बात सामने आई है. आरोपी डॉ. सुनील मंत्री को गिरफ्तार कर लिया गया है और जांच जारी है.