देश राजनीती होम

अमित शाह के हेलिकाप्टर लैंड को लेकर पहले ना फिर हां, भाजपा ने लगाया गंभीर आरोप

अमित शाह के हेलिकाप्टर लैंड को लेकर पहले ना फिर हां, भाजपा ने लगाया गंभीर आरोप

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की 22 जनवरी को मालदा में रैली प्रस्तावित है। रैली को लेकर बंगाल में फिर सियासत शुरू हो गई है।  जिला प्रशासन ने मालदा एयरपोर्ट पर उनके हेलिकॉप्टर को लैंड कराने से साफ मना कर दिया। भाजपा ने जब इस मसले पर सवाल उठाया तो जिला प्रशासन ने शाह के हेलिकॉप्टर को उस जगह उतारने की अनुमति दी, जहां सीएम का हेलीकॉप्टर पूर्व में उतरता रहा है। भाजपा की तरफ से कहा गया था कि जब हर हफ्ते सीएम का चॉपर वहां उतरता है, तब फिर शाह के हेलिकॉप्टर को इजाजत देने में क्या दिक्कत है?

शाह के हेलिकॉप्‍टर को मालदा एयरपोर्ट पर लैंडिग की इजाजत न देने को भाजपा ने साजिश बताया है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेस कर सबूत के साथ कहा कि उसी जगह पर ममता बनर्जी का हेलिकाप्टर लैंड कर सकता है तो अमित शाह का क्यों नहीं?  केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कुछ दिन पहले ममता बनर्जी का हेलिकॉप्टर वहां उतारा गया था। हमारे पास इसकी तस्वीरें हैं। ममता सरकार प्रशानिक शक्तियों का दुरुपयोग कर रही है।

वहीं प्रशासन का कहना है कि राज्य सरकार ने भाजपा को हेलिकॉप्टर लैंड करने की इजाजत दे दी है। मालदा के होटल गोल्डन पार्क के दूसरी तरफ मौजूद ग्राउंड पर अमित शाह का हेलिकाप्टर लैंडिंग कर सकेगा । सीएम ममता बनर्जी का हेलिकॉप्टर भी यहां लैंडिंग करता है ।

इस मामले में भाजपा मालदा के महासचिव ने 18 जनवरी को लिखे पत्र में कहा था कि मालदा एयरपोर्ट का इस्तेमाल पश्चिम बंगाल सरकार के हेलिकॉपटरों को लैंड करने के लिए इस्तेमाल हो रहा है लेकिन ये हमें कह रहे हैं कि एयरपोर्ट लैंडिंग के लिए सुरक्षित नहीं है, अगर ऐसा है तो आपकी सरकार के हेलिकॉप्टर कैसे लैंड हो रहे हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि हमने मंजूरी दे दी है लेकिन कुछ सुरक्षा संबंधी चिंताएं हैं। पुलिस ने कहा कि अमित शाह का चॉपर कहीं और लैंड करना चाहिए, मैंने भी अपने चॉपर की लैंडिंग की जगह बदली है। हमने बैठक के लिए मंजूरी दे दी है क्योंकि हम लोकतंत्र में विश्वास करते हैं। भाजपा लोगों को धोखा दे रही है।