उत्तर प्रदेश देश राजनीती होम

BJP संगठन और सरकार को 74 सीटें जीतने का फॉर्मूला देने अमित शाह आ रहे लखनऊ

BJP संगठन और सरकार को 74 सीटें जीतने का फॉर्मूला देने अमित शाह आ रहे लखनऊ

यूपी लोकसभा चुनाव प्रभारी जेपी नड्डा ने मिशन 2019 की जीत के मंत्र दिए हैं. अब अमित शाह 30 जनवरी को लखनऊ में संगठन और सरकार को जीत का फार्मूला बताएंगे कि कैसे बीजेपी पाएगी 74 प्लस का टारगेट? बूथ जीतो चुनाव जीतों के नारे के साथ एक बार फिर मिशन 2019 के लिए बीजेपी ने कमर कस ली है, लेकिन इस बार लोकसभा चुनाव प्रभारी अमित शाह नहीं है, बल्कि जेपी नड्डा हैं.राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से गुरुमंत्र लेकर जेपी नड्डा लखनऊ पहुंचे, जहां पार्टी पदाधिकारियों की बैठक और कोर कमेटी की बैठक की. दिन भर बैठकों का दौर चला. बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं को विकास के एजेंडे के साथ जमीन पर उतारने का फैसला लिया गया. साथ ही साथ बूथ स्तर पर पिछड़ों और दलितों को बीजेपी की योजनाओं को बताकर साथ जोड़ने पर फोकस किया गया. सरकार के मंत्रियों को भी निर्देश दिए गए कि संगठन के एजेंडे से इतर न जाएं.

इसके साथ ही बीजेपी की नजर कांग्रेस की रणनीतियों पर भी रही लेकिन फोकस सपा बसपा गठबंधन पर रहा. बीजेपी नेता और प्रदेश के डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा कहते हैं कि गठबंधन से कोई फर्क नहीं पड़ेगा. दावा है कि 74 प्लस ही रहेंगे.बीजेपी प्रवक्ता मनीष शुक्ला कहते हैं कि बीजेपी ने विकास कार्यक्रमों को जनजन तक पहुंचाने की पूरी पूरी रुपरेखा तैयार कर ली है. कार्यकर्ता इस एजेंडे पर ही काम करेंगे और विकास कार्यक्रमों को रुट लेवल तक ले जाएंगे ताकि विकास की पगडंडी पर जीत की राह बनाई जा सके.इसके साथ ही बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के कार्यक्रमों पर भी चर्चा हुई. 30 जनवरी को लखनऊ और कानपुर के दौरे पर रहेंगे. वहीं 2 फरवरी को पश्चिमी उत्तरप्रदेश की नब्ज टटोलेंगे. अमरोहा में पश्चिमी के नेताओं के साथ बैठकर रणनीति तय करेंगे. 8 फरवरी को वे काशी और गोरखपुर का प्रवास करेंगे. उनके दौरे से पहले लोकसभा चुनाव प्रभारी जेपी नड्डा पार्टी संगठन के टारगेट फिक्स कर दिए हैं. सांसदों के कामकाज और लोकप्रियता के आधार पर टिकट बांटे जांएगे. उनका भी फीड बैक अगली मीटिंग में रखा जाएगा, जिसके आधार पर टिकट वितरण होने हैं.