उत्तर प्रदेश देश होम

लखनऊ में मिला तीन महीने से लापता जीतू

लखनऊ में मिला तीन महीने से लापता जीतू

तीन महीना पहले लापता हुई किशोर जीतू लखनऊ में बरामद हो गया। उसका अपहरण नहीं हुआ था, बल्कि वह बड़े भाई के डांटने के बाद घर से चला गया था। पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन ताडा ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उसकी बरामदगी का पर्दाफाश किया है।

काबिलेगौर है कि नवंबर 2018 में देहात थाना क्षेत्र के गांव बंबूगढ़ पंडकी निवासी किसान चरन ¨सह का बेटा जीतू घर से लापता हो गया था। इस मामले में परिजनों ने अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस व परिजन जीतू को तलाश कर रहे थे। परंतु उसका कोई सुराग नहीं मिल रहा था। तीन दिन पहले जीतू लखनऊ के रेलवे स्टेशन पर लावारिस हालत में घूमता मिला। जीआरपी ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने सारा घटनाक्रम बता दिया। जीआरपी लखनऊ ने अमरोहा पुलिस से संपर्क किया तो पुलिस जीतू को अमरोहा ले आई। शुक्रवार को एसपी डॉ. विपिन ताडा व सीओ सदर जितेंद्र ¨सह ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान जीतू की बरामदगी का पर्दाफाश किया। एसपी ने बताया कि जीतू का अपहरण नहीं हुआ था। बल्कि वह बड़े भाई से लड़ाई होने के बाद घर से चला गया था।