उत्तर प्रदेश देश होम

राम मंदिर को लेकर आरएसएस का नया रुख, अब इंद्रेश कुमार ने कही ये बात

राम मंदिर को लेकर आरएसएस का नया रुख, अब इंद्रेश कुमार ने कही ये बात

राम मंदिर निर्माण को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की तरफ से केंद्र सरकार पर दबाव बनाना जारी है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य और वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार ने शनिवार को गुरुग्राम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता इंद्रेश कुमार ने दैनिक जागरण से बातचीत में कहा कि राम मंदिर निर्माण को लेकर केंद्र सरकार संसद में चर्चा कराए। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर कैसे बनेगा, इस मुद्दे पर सभी पार्टियों के नेता अपने-अपने विचार रखें। जो मंदिर निर्माण के विरोधी हैं, वे क्यों हैं इस बारे में पूरे तथ्य के साथ अपनी बात रखें।

इंद्रेश कुमार ने कहा कि एक बार खोदाई कराई गई थी। उस दौरान मस्जिद होने का प्रमाण नहीं मिला, जबकि मंदिर के काफी प्रमाण मिल चुके हैं। देश के एक भी मुसलमान ने कभी वहां पर नमाज अता नहीं की। इंद्रेश कुमार का यह बयान ऐसे समय में आया है जब लोकसभा चुनाव नजदीक हैं और 31 जनवरी को संसद का बजट सत्र शुरू हो रहा है।

इससे पहले बृहस्पतिवार को प्रयागराज में RSS के सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने कहा था कि अगर राम मंदिर का निर्माण आज शुरू होगा तो वर्ष 2025 तक पूरा होगा। विवाद होने पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा था कि संघ की इच्छा है कि 2025 तक राम मंदिर बन जाए। अपने बयान पर सफाई देते हुए जोशी ने कहा था कि मैंने कभी नहीं कहा कि राम मंदिर 2025 में बनेगा।