देश राजनीती होम

राजस्थान: पहली बार सदन में संसदीय मर्यादा हुई भंग, बेनीवाल ने राज्यपाल पर की आपत्तिजनक टिप्पणियां

हनुमान बेनीवाल (फाइल फोटो)

राजस्थान विधानसभा के पहले सत्र के तीसरे दिन गुरुवार को राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान संसदीय मर्यादाएं भंग हुई। खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल अभिभाषण के दौरान वेल में आकर जमकर हंगामा करने लगे। जिस चलते राज्यपाल कल्याण सिंह का अभिभाषण पूरा नहीं पाए। बेनीवाल ने मूंग खरीद शुरू करने की मांग को लेकर हंगाना शुरू किया जो राज्यपाल कल्याण सिंह पर स्वास्थ्य को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणियां जा पहुंचा। बेनीवाल ने राज्यपाल से कहा- “आपको मुख्यमंत्री का नाम तक तो याद रहता नहीं। यहां टाइम खराब करने के बजाय अपना इलाज कराएं।”बेनीवाल सत्र शुरू होने के पहले दिन से ही किसी न किसी बहाने से सुर्खियों में रहने की कोशिश कर रहे थे। बेनीवाल ने राज्यपाल ही नहीं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर भी टिप्पणियां की। हनुमान बेनीवाल के इस आपत्तिजनक व्यवहार पर विपक्ष के नेताओं ने भी आलोचना की। राज्यपाल ने तो प्रतिक्रिया नहीं दी, लेकिन उनका अभिभाषण समाप्त होने के बाद जब दूसरी बार सदन शुरू हुआ तो नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया बेनीवाल पर कार्यवाही की मांग को लेकर अड़ गए। जिसके बाद विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा, “सदन नियमों से चलता है। सदन का कोई भी सदस्य ऐसा आचरण न करे, जिस पर मुझे कठोर कार्रवाई के लिए बाध्य होना पड़े। भविष्य में इस तरह की कोई घटना होगी तो मुझे कठोर कदम उठाने पड़ेंगे।”