उत्तर प्रदेश देश होम

एक फोन पर आपके घर पहुंचेगा अस्पताल, 53 जिलों में शुरू होगी सेवा

एक फोन पर आपके घर पहुंचेगा अस्पताल, 53 जिलों में शुरू होगी सेवा

आप या आपका कोई परिचित बीमार है और आसपास कोई अस्पताल नहीं है तो अब घबराने की जरूरत नहीं है। आपको सिर्फ एक फोन घुमाना है। मोबाइल अस्पताल आपके घर आ जाएगा। 108 एंबुलेंस सेवा की तर्ज पर प्रदेश सरकार ऐसे मोबाइल चिकित्सालय के सपने को साकार करने जा रही है। इसके लिए एक कंपनी से करार भी हो चुका है। इस अस्पताल में प्राथमिक उपचार के साथ ही जांच के सभी इंतजाम होंगे। डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ भी इसमें मौजूद रहेगा।मोबाइल अस्पताल में पैथोलॉजी भी होगी, जो गंभीर मरीजों का मौके पर ही खून तथा अन्य जांच करेगी और रिपोर्ट तुरंत मिल जाएगी। इस अस्पताल में इलाज के साथ सभी सुविधाएं मुफ्त होंगी। फरवरी के प्रथम सप्ताह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हरी झंडी दिखाकर इस सेवा की शुरुआत करेंगे। पहले चरण में राजधानी समेत 53 जिलों में यह सेवा शुरू होगी। मामला मुख्यमंत्री से जुड़ा होने के कारण कंपनी के प्रतिनिधि फोन नंबर सहित किन-किन जिलों में सुविधा शुरू होगी, जैसी अन्य जानकारियां देने से बच रहे हैं।

कर्मचारियों को बांटे नियुक्ति पत्र
मोबाइल अस्पताल के लिए 459 स्टाफ नर्स समेत अन्य कर्मचारियों की भर्ती हो चुकी है। राजधानी के लालबाग स्थित क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय में विशेष सचिव श्रम एमके सिंह ने भर्ती हुए कर्मचारियों में से सौ को नियुक्ति पत्र देकर प्रक्रिया पूरी की। सहायक सेवायोजन अधिकारी प्रीति चंद्रा ने बताया कि विभाग के उप निदेशक पीके पुंडीर, सहायक सेवायोजन अधिकारी शशि तिवारी, कंपनी के प्रतिनिधि जितेंद्र वालिया आदि इस अवसर पर मौजूद थे।

क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय की सहायक निदेशक सुधा पांडेय ने बताया कि बेरोजगार युवाओं की भर्ती के लिए कंपनी की ओर से साक्षात्कार लिया गया था। मोबाइल अस्पताल के लिए भर्ती प्रक्रिया पूरी हो गई है। भर्ती हुए 459 मेडिकल स्टाफ में से सौ को नियुक्ति पत्र भी दे दिए गए हैं। कंपनी द्वारा पता चला है कि अगले महीने मुख्यमंत्री सेवा की शुरुआत करेंगे।