उत्तर प्रदेश देश राजनीती होम

आगरा में बोले पीएम नरेंद्र मोदी- 10 फीसदी सवर्ण आरक्षण के लिए किसी का हक नहीं छीना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

आगरा के कोठी मीना बाजार मैदान से बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी शंखनाद किया। उन्होंने स्वास्थ्य, शिक्षा और स्मार्ट सिटी संबंधित साढ़े तीन हजार करोड़ से अधिक की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास कर जनता को सौगात दी।

जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि इस मैदान से जब-जब उत्तर प्रदेश और देश से समर्थन मांगा है, तो भरपूर साथ मिला है। मैं आपके विश्वास पर खरा उतरने के लिए लगातार काम करता रहा हूं। कहकर रैली को चुनावी अभियान बना दिया।

सवर्ण आरक्षण पर मोदी ने कहा कि 10 फीसद सवर्ण आरक्षण के लिए किसी का हक नहीं छीना है। आजादी के इतने दशकों के बाद बढ़ी समानता को स्वीकार करते हुए उसका समाधान खोजने का एक प्रयास किया गया है।

मोदी मोदी से गूंजा मैदान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से पहले मैदान भीड़ से खचाखच भर गया। जैसे ही प्रधानमंत्री मंच पहुंचे पूरा मैदान मोदी मोदी के नारों से गूंज उठा। मोदी ने मंच पर पहुंचते ही हाथ हिलाकर सबका अभिवादन किया और सभी नववर्ष की शुभकामनाएं दीं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आगरा में शुरू हो रहीं ये परियोजनाएं पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य से जुड़ी हैं। आगरा को स्मार्ट सिटी बनाने से जुड़ी हैं। उन्होंने कहा कि यह बरसों पुरानी एक मांग थी जो आज पूरी हुई है। आगरा से मथुरा तक पानी की गंभीर समस्या रही है।

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में जो पानी है वो खारा है, जिसे पीना मुश्किल है। यही कारण है कि अपर गंगा नहर से आगरा की प्यास बुझाने की योजना बनाई गई। अब गंगा जल पीने का सौभाग्य मिला है तो इससे सिर्फ पानी की समस्या ही हल नहीं हुआ है बल्कि यह उत्तम स्वास्थ्य के लिए जड़ी बूटी का भी काम करेगा।

विरोधी दलों पर निशाना

इस दौरान नरेंद्र मोदी ने विरोधी दलों पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस पर कहा कि मिशेल मामा की कथा सबको याद है। राजदार हिंदुस्तान के कब्जे में आया गया है। जैसे ही राजदार को पकड़ कर लाए कांग्रेस ने अपना एक वकील तुरंत उसकी रक्षा करने के भेज दिया।

सपा-बसपा के संभावित गठबंधन पर मोदी ने कहा कि राजनीतिक स्वार्थ के लिए लखनऊ के गेस्ट हाउस का वो शर्मनाक कांड भी भुला दिया गया। मुजफ्फरनगर से लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में क्या क्या हुआ सब भुलाने की कोशिश की जा रही है।

उन्होंने कहा कि जो एक-दूसरे का मुंह तक देखने के लिए तैयार नहीं थे। चौकीदार को दूर से ही देख कर घबरा जाते हैं। चौकीदार को हटाने के अभियान के चलते हर एक टुकड़े और तिनके को जोड़ा जा रहा है। विरोधी चाहते हैं कि चौकीदार को पहले निकालो फिर हम लूट पाट करके गुजारा कर लेंगे।

ताजनगरी के विकास पर बोले

आगरा के विकास पर मोदी ने कहा कि आने वाले समय में पर्यटन के क्षेत्र में यह बड़ा आकर्षण बन सकता है। पर्यटकों को जब पता चलेगा कि उसे गंगा जल पीने का सौभाग्य मिल रहा है तो लोग यहां ज्यादा दिन तक रहेंगे।

उन्होंने कहा कि आगरा देश के उन शहरों में शामिल हैं जहां स्मार्ट सिटी सेवाएं विकसित हो रही हैं, यहां के मॉनिटरिंग सेंटर से पूरे शहर की मॉनिटरिंग होगी। सीसीटीवी कैमरा एक ऐसी सुविधा है जो सुरक्षा की गारंटी लाती है।

नरेंद्र मोदी ने कहा कि भाजपा सरकार विकास की ‘पंच धारा’ है। बच्चों को पढ़ाई, युवा को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसानों को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई इसके लिए भाजपा प्रतिबद्ध है। प्रधानमंत्री ने आयुष्मान समेत अपनी लाभकारी योजनाओं की भी गिनाया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर कमाई की बात करें तो आगरा सहित यूपी का हर जिला अपने उद्योगों के लिए जाना जाता है। पेठा आगरा की पहचान है। भाजपा सरकार हर जिले के इन छोटे उद्योगों को बढ़ावा दे रही है।

सवर्ण आरक्षण को बताया ऐतिहासिक

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरे देश ने देखा है कि किस प्रकार लोकसभा में एक ऐतिहासिक बिल पास किया गया है। आजादी के इतने दशकों के बाद गरीबी के कारण बढ़ी असमानता को स्वीकार किया गया है। यह सामान्य श्रेणी के गरीब परिवारों को शैक्षणिक संस्थानों और सरकारी सेवाओं में आरक्षण मिले इस तरफ एक महत्वपूर्ण बड़ा कदम उठाया गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब 59 मिनट के अंदर 1 करोड़ तक की लोन की सैद्धांतिक मंजूरी देने की सुविधा शुरू कर दी गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब बड़े उद्योगों में छोटे उद्यमियों का पैसा नहीं फंसे इसके लिए लोन पर ब्याज में 2 फीसदी की छूट दी गई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि व्यापारी और ग्राहक के रिश्तों को मजबूत करने की व्यवस्था GST है। कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं, बताया जा रहा है कि अन्य करों के बाद GST एक नया कर हो गया है। ये झूठ है, गलत है। पहले के टैक्सों को खत्म कर दिया गया है।

मोदी ने कहा कि अब उन ताकतों से भी सावधान रहना है जो अपने स्वार्थ के लिए अफवाहों का बाज़ार गर्म करने में जुट गई हैं। गरीबों के दुश्मन सोशल मीडिया से लेकर बड़े मंचों पर अब झूठ फैलाने के काम में जुट गए हैं।