दिल्ली देश राजनीती होम

भाजपा ने 5 हजार किलो खिचड़ी बनाई, 3 लाख दलितों के घरों से मंगाया दाल-चावल

खिचड़ी खाते केंद्रीय मंत्री विजय गोयल, थावरचंद्र गहलोत और भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दुष्यंत गौतम।

भाजपा ने रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में भीम महासंगम रैली की। इसमें आने वाले कार्यकर्ताओं के लिए 5 हजार किलो खिचड़ी पकाई गई। इसे समरसता खिचड़ी का नाम दिया गया है। पार्टी दुनिया में एक बार में सबसे ज्यादा खिचड़ी बनाकर गिनीज बुक में रिकॉर्ड दर्ज कराना चाहती है।

 

खिचड़ी के लिए 3 लाख दलितों के घरों से दाल चावल मंगाए गए हैं। खिचड़ी में एक हजार किलो दाल-चावल, 300-400 किलो सब्जी, 200 लीटर घी, 100 लीटर तेल लगा। खिचड़ी को पकाने के लिए 5000 लीटर पानी डाला गया। इसे 10×10 फीट के बर्तन में पकाया गया।दरअसल, भीम महासंगम विजय संकल्प-2019 रैली के जरिए पार्टी लोकसभा चुनाव से पहले दलितों को साधना चाहती है। खास बात यह है कि खिचड़ी बनाने के लिए करीब तीन लाख एससी परिवारों से दाल-चावल मांगा गया है। इस खिचड़ी को नागपुर के शेफ विष्णु मनोहर तैयार कर रहे हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इस खिचड़ी के लिए दिल्ली के सभी 14 जिलों के घरों से तरह-तरह के अनाज जुटाया। इससे पहले विष्णु मनोहर 3 हजार किलो की खिचड़ी बना चुके हैं।माना जा रहा है कि भाजपा की यह समरसता खिचड़ी दलितों को लुभाने की कोशिश है। देश में 17% दलित वोट हैं। दलितों की कुल आबादी 20 करोड़ 14 लाख है। 150 से अधिक लोकसभा सीटों पर इनका प्रभाव है। 131 सांसद इसी वर्ग से हैं। इस वर्ग के लिए लोकसभा में 84 सीटें आरक्षित हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में एनडीए को इन में से 46 जबकि कांग्रेस को सिर्फ 7 सीटें मिली थीं।