देश राजनीती होम

पीएम मोदी का हमला, ‘चौकीदार’ को रास्ते से हटाना चाहती है ‘चोरों की जमात’

पीएम मोदी का हमला, 'चौकीदार' को रास्ते से हटाना चाहती है 'चोरों की जमात'

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा के बारीपदा में राफेल और अगस्ता वेस्लैंटड हेलीकॉप्टर के मुद्दे पर कांग्रेस को जमकर घेरा। यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘मैं रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण को बधाई देता हूं। उन्होंने देश की आंखों में धूल झोंकने वालों की नीयत को, देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करने वालों की राजनीति को, अपने मनोरंजन के लिए पवित्र संसद को इस्तेमाल करने वालों के बचपने को, देश के सामने उजागर किया।’ मोदी ने आगे कहा कि वंदे मातरम से देश में कुछ लोगों को तकलीफ होगी, देश की सबसे पुरानी पार्टी के नेता कहते हैं कि मोदी ‘भारत माता की जय’ से लोगों का अभिवादन क्यों करता हैं।

मोदी ने अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर डील को लेकर कांग्रेस को घेरते हुए कहा, ‘समझ नहीं आता है कि कांग्रेस ने सरकार चलाई है या अपने मिशेल मामा का दरबार चलाया है। देश के बजाए बिचौलियों की रक्षा में जिनकी भूमिका रही है, उनकी जांच एजेंसियां करेंगी। मिशेल ने कई बातों का खुलासा किया, संभवतः जितनी जानकारी पीएम को नहीं होती थी, उससे ज्यादा बिचौलियों को होती थी।’

‘चौकीदार को रास्ते से हटाना चाहती है चोरों की जमात’
मोदी ने तंज कसते हुए कहा कि हमारी सरकार देश की सेनाओं को साजिश के जाल से बाहर निकाल रही है, लेकिन कांग्रेस को ये रास नहीं आ रहा है। हम उन्हें कांटों की तरह चुभ रहे हैं। मोदी ने कहा कि यही वजह है कि चोरों की जमात ‘चौकीदार’ को रास्ते से हटाना चाहती है।

7332 करोड़ की देंगे सौगात
मोदी मयूरभंज जिले के बारीपदा में 7332 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का ऑनलाइन लोकार्पण व शिलान्यास करेंगे। जिसमें राष्ट्रीय राजमार्ग-215 व छह के फोरलेन एवं दो रेल लाइन के दोहरीकरण कार्य का शिलान्यास समेत इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आइओसीएल) की बालेश्वर-हल्दिया गैस पाइपलाइन का लोकार्पण एवं टाटा-बादामपहाड़ के बीच पैसेंजर ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने का कार्यक्रम है। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी छह शहरों भद्रक, जाजपुर, आसिका, केंदुझर, कटक एवं ढेंकानाल के पासपोर्ट केंद्रों का लोकार्पण करेंगे।

16 जनवरी को फिर आएंगे मोदी
प्रधानमंत्री मोदी 16 जनवरी को पश्चिम ओडिशा के बलांगीर में जनसभा को संबोधित करेंगे। इससे पहले 24 दिसंबर को खुर्दा में एक जनसभा को संबोधित किया था। प्रधानमंत्री की एक के बाद एक यात्राओं को 2019 में होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव की तैयारियों से जोड़कर देखा जा रहा है।