देश होम

मेघालय : खदान में फंसे श्रमिकों को बचाने पहुंची नौसेना की टीम, आज से बचाव कार्य शुरू

कई दिक्कतों व देरी के बाद दो बचाव टीम शनिवार सुबह मेघालय पहुंच गईं। इनमें नौसेना के अलावा ओडिशा फायर सर्विसेज के विशेषज्ञ शामिल हैं। शनिवार को टीम ने ईस्ट जयंतिया हिल्स स्थित उस कोयला खदान का दौरा किया, जहां बीते 13 दिसंबर से 15 मजदूर भीतर फंसे हैं। पूरे दिन खदान से पानी निकालने के लिए उच्च क्षमता वाले पंप लगाए गए। अब रविवार सुबह से बचाव कार्य शुरू होने की उम्मीद है।बचाव कार्य का जिम्मा संभालने वाले एनडीआरएफ के सहायक कमांडेंट संतोष कुमार सिंह ने बताया कि नौसेना की एक तीन सदस्यीय टीम ने शनिवार को मौके का दौरा किया। उन्होंने एनडीआरएफ के अधिकारियों के साथ बैठक की और वे रविवार से काम शुरू करेंगे। खदान के भीतर जलस्तर अब तक जस का तस है। खदान में फंसे मजदूरों को बचाने में विशेषज्ञ अमृतसर के गोताखोर जसवंत सिंह गिल ने भी मौके का दौरा किया। ओडिशा फायर सर्विसेज की टीम ने खदान से पानी निकालने के लिए वहां उच्च क्षमता वाले पंप लगा दिए हैं।

ईस्ट जयंतिया हिल्स के पुलिस अधीक्षक सिलवेस्ट नांगटेंगर ने बताया कि तमाम टीमें मिल कर काम कर रही हैं। भीतर फंसे मजदूरों को बचाना हमारी शीर्ष प्राथमिकता है। ध्यान रहे कि 14 दिसंबर से ही बचाव अभियान शुरू होने के बावजूद अब तक उन मजदूरों का कोई पता नहीं चल सका है। राज्य प्रशासन की ओर से तालमेल नहीं होने की वजह से ओडिशा से आने वाली टीम को गुवाहाटी से मौके पर पहुंचने में काफी देरी हुई।