देश राजनीती होम

जब कड़ाके की ठंड में शॉल पहनकर रैन बसेरा पहुंच गए शिवराज

 मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का प्रदेश के लोगों से लगातार मिलना जारी है. इसी क्रम में वे भोपाल स्थित रैन बसेरे में अचानक पहुंचकर लोगों से मिलने लगे.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का प्रदेश के लोगों से लगातार मिलना जारी है. इसी क्रम में वे भोपाल स्थित रैन बसेरे में अचानक पहुंचकर लोगों से मिलने लगे. शिवराज सिंह चौहान भोपाल के सुल्तानिया अस्पताल के सामने बने रैन बसेरा में पहुंचे. यहां की व्यवस्थाओं से वह संतुष्ट दिखे. इस दौरान लोगों ने शिवराज के साथ फोटो भी खिंचवाई.

शिवराज सिंह चौहान भोपाल के सुल्तानिया अस्पताल के सामने बने रैन बसेरा में पहुंचे. यहां की व्यवस्थाओं से वह संतुष्ट दिखे. इस दौरान लोगों ने शिवराज के साथ फोटो भी खिंचवाई.

 दरअसल, शनिवार को शिवराज भोपाल की सड़कों पर जायजा लेने निकले थे. शिवराज का काफिला पुराने भोपाल के सुल्तानिया अस्पताल के सामने बने रैन बसेरा पहुंचा. शिवराज ने पहले तो बाहर अलाव के पास बैठे लोगों से बात की और उसका बाद रैन बसेरे में रात गुजारने वाले लोगों से मुलाकात की.

दरअसल, शनिवार को शिवराज भोपाल की सड़कों पर जायजा लेने निकले थे. शिवराज का काफिला पुराने भोपाल के सुल्तानिया अस्पताल के सामने बने रैन बसेरा पहुंचा. शिवराज ने पहले तो बाहर अलाव के पास बैठे लोगों से बात की और उसका बाद रैन बसेरे में रात गुजारने वाले लोगों से मुलाकात की.

 उसके बाद उन्होंने न्यू मार्केट स्थित रैन बसेरे का दौरा भी किया. इस दौरान शिवराज लोगों से मिलकर उनका हालचाल पूछ रहे थे. उन्होंने कहा कि दीन-दुखियों की सेवा ही उनके जीवन का लक्ष्य है.

उसके बाद उन्होंने न्यू मार्केट स्थित रैन बसेरे का दौरा भी किया. इस दौरान शिवराज लोगों से मिलकर उनका हालचाल पूछ रहे थे. उन्होंने कहा कि दीन-दुखियों की सेवा ही उनके जीवन का लक्ष्य है. इसके बाद शिवराज ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी कि 'रैनबसेरों में जो अपनापन, स्नेह और आशीर्वाद मिलता है, उसे शब्दों में बयां नहीं कर सकते. अद्भुत अविस्मरणीय प्रेम है आप लोगों का, इसके लिए हृदय से आभार'