उत्तराखंड देश होम

छात्रा को जिंदा जलाने वाले वहशी की मां, बोलीं ‘इस अपराध की माफी नहीं, उसे कड़ी सजा दें’

आरोपी

बेटे ने एक तरफा प्यार में छात्रा को जिंदा जला दिया। घरवालों ने जैसे ही यह खबर सुनी मां सदमे में आ गईं। आरोपी के माता-पिता व भाई ने पहली बार बातचीत की है। घटना से दुखी आरोपी के पिता ने कहा कि जीवन में उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था कि उनका बेटा उन्हें इस तरह से शर्मसार करेगा। उन्होंने कहा कि बेटा हमारा है, लेकिन उसके अपराध की माफी नहीं है। उसे उसके अपराध की कड़ी सजा मिलनी ही चाहिए। घटना के बाद पूरे प्रदेश में घटना के विरोध में आक्रोश भर गया था। आरोपी का परिवार घटना के बाद सहमा हुआ है। परिवार का कोई सदस्य घर से बाहर नहीं निकल रहा है।उधर, युवती की मां ने राज्य सरकार से मांग की है कि आरोपी को फांसी की सजा दिलाई जाए। उन्होंने कहा कि ऐसी घटना राज्य में दोबारा से न घटित हो, इसके लिए राज्य सरकार आरोपी को या तो फांसी की सजा दें या फिर आरोपी को जनता के हवाले करें। बता दें कि पौड़ी जिले की कफोलस्यूं पट्टी के एक गांव की 18 वर्षीय युवती रविवार को परीक्षा देकर घर लौट रही थी। रास्ते में गहड़ गांव निवासी मनोज ने उससे जबरदस्ती करनी शुरू कर दी। छात्रा के विरोध करने पर आरोपी ने उस पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी।

सीएम त्रिवेंद्र के आदेश के बाद अब छात्रा का इलाज दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में चल रहा है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। जानकारी के मुताबिक, छह डॉक्टरों की टीम छात्रा के इलाज में जुटी है। वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग भी अब छात्रा को इंसाफ दिलाने के लिए आगे आया है।