उत्तर प्रदेश देश होम

उत्तर प्रदेश: हरदोई के पास मालगाड़ी बेपटरी, 5 ट्रेनें रद्द

मालगाड़ी पलटी (हिन्दुस्तान फोटो)

लखनऊ से बरेली वाया दिल्ली जाने वाली रेलवे लाइन पर शनिवार की शाम करीब पांच बजे तेज रफ्तार से जा रही मालगाड़ी के कई डिब्बे पलट गए। यह हादसा बघौली रेलवे स्टेशन के आउटरहोम सिग्नल के पास हुआ। इससे अप व डाउन दोनों ट्रैक बाधित हो गए। आननफानन में आसपास के लोगों ने सूचना रेलवे अधिकारियों को दी। मुख्यालय ने रूट की पांच ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है। जबकि 39 ट्रेनें बदले रूट से चलाई जाएंगी। मुरादाबाद की ओर आ रही मालगाड़ी के पलटने से मुख्य लाइन पूरी तरह बंद है। हादसे में फिलहाल बारह ट्रेनें प्रभावित बताई जा रही हैं। लखनऊ से मुरादाबाद की ओर आ रही तीन और यहां से लखनऊ की ओर जा रही नौ ट्रेनों को सेक्शन में रोकना पड़ा।

डीआरएम एके सिंघल ने तत्काल रेलवे अफसरों को भेजकर मौका मुआयना करके ट्रैक साफ कराने के निर्देश दिए। यह ट्रेन अप लाइन पर लखनऊ की ओर से मुरादाबाद की ओर जा रही थी। बताते हैं कि मालगाड़ी की बोगियों में कोयला लदा था। बघौली स्टेशन पार करने के बाद एटी किमी खंभा नंबर 1150 के पास तेज धमाके के साथ एक के बाद एक कई डिब्बे पटरी से उतर गए। इंजन व उससे पीछे के तीन डिब्बे छोड़कर अन्य डिब्बे पलटे हैं।

रेलवे ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर
मुरादाबाद-0591-2420962
रेलवे-2101
बालामऊ- 47222

आनन-फानन में इस रूट से गुजरने वाली ट्रेनों को जहां का तहां रोक दिया गया। सण्डीला, हरदोई समेत अन्य स्टेशनों पर ट्रेंनें खड़ी कर दी गईं। डीआरएम एके सिंघल का कहना है कि अभी राहत कार्य शुरू कराया है। ट्रेन की बोगियां पलटने की वजह अभी स्पष्ट नहीं हो सकी है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। घटना के वक्त डीआरएम लखनऊ में विभागीय मीटिंग ले रहे थे। सूचना मिलते ही वह सारे काम छोड़कर घटनास्थल पर पहुंचे।

लखनऊ-दिल्ली रूट पर मालगाड़ी के डिब्बे पलटने का असली कारण क्या है, यह तो जांच के बाद स्पष्ट हो सकेगा लेकिन इसे लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। कोई घटना के पीछे किसी बड़ी साजिश की आशंका जता रहा है तो कोई पटरी चटकी होने की बात कह रहा है। वहीं मालगाड़ी ओवरलोड होने से पटरी का प्वाइंट टूटने की बात भी सामने आ रही है। मालगाड़ी के चालक शक्ति कुमार व सहायक चालक संदीप यादव रौजा रेंज के गाड़ी का संचालन कर रहे थे।

मालगाड़ी पलटने से सवारी गाड़ियों के पहिए थमे
हादसे के बाद अप और डाउन लाइने ब्लाक हो गई है। इससे इस रूट पर यात्रियों को ले जाने वाली जो रेलगाड़िया जहां थी वहीं रोक दी गई है। बताते हैं कि बघौली स्टेशन के पास कासन भी है जहां से ट्रेनें 60 की स्पीड से गुजरती है। ट्रेन पलटने का कारण ओवर लोड का अनुमान लगाया जा रहा है। अधिकांश मालगाड़ियां कमीशन के चक्कर में ओवर लोड होकर चल रहे रही है। जबकि लाइन की पटरी कई जगह पुरानी हैं। अभी नुकसान का आकलन नहीं हो पाया है। इस घटना से रेल अधिकारियों में हडकंप मचा हुआ है।अप और डाउन लाइने प्रभावित हो गई है जो गाड़ी जहां पर वही उसको रोक गया है।