देश होम

रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद

रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद, 112 पैसे सुधार

कच्चे तेल की नरमी से भारत के व्यापार घाटा को लेकर चिंता कम होने के बीच रुपया मंगलवार को डॉलर के मुकाबले 112 पैसे के जोरदार उछाल के साथ 70.44 डॉलर पर बंद हुआ. रुपये की विनिमय दर में पांच साल से भी अधिक समय में यह एक दिन का सबसे बड़ा सुधार है. निर्यातकों और बैंकों द्वारा डॉलर की सतत बिकवाली के साथ साथ अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीतिगत बैठक से पहले वैश्विक स्तर पर प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने से रुपये को बल मिला. फेडरल रिजर्व की ब्याज तय करने वाली समिति की बैठक बुधवार को हो रही है और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने उससे ब्याज न बढ़ाने की अपील की है.अंतरराष्ट्रीय तेल बाजारम में मानक ब्रेंट कच्चा तेल 2.26 प्रतिशत गिर कर 14 माह के निम्न स्तर 58.26 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर चल रहा था. अन्तरबैंकिंग विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपये की विनिमय दर प्रति डॉलर 71.34 पर मजबूत खुली. कारोबार के अंत में रुपया सोमवार के बंद भाव के मुकाबले 112 पैसे के भारी उछाल के साथ 70.44 पर बंद हुआ. रुपया सोमवार को 34 पैसे मजबूत हो कर 71.56 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. रुपये में 112 अंकों का उछाल 19 सितंबर, 2013 के बाद एक दिन की सबसे बड़ी तेजी दर्शाता है. उस दिन इसमें 161 पैसे का उछाल आया था. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स आरंभिक गिरावट से उबर कर 77 अंक लाभ के साथ 36,347 अंक पर बंद हुआ.