खेल देश होम

छोटे धोनी से लेकर गोनी तक वो 10 भारतीय खिलाड़ी, जिन्हें IPL 2019 में किसी ने नहीं खरीदा

ipl 2019 unsold players

आईपीएल सीजन-12 के लिए नीलामी में कई भारतीय खिलाड़ियों की किस्मत खराब निकली। इंटरनेशनल क्रिकेट पर बड़ा कारनामा करने वाले इन दिग्गजों पर किसी फ्रेंचाइजी ने भरोसा नहीं दिखाया। आइए जानते हैं उन भारतीय खिलाड़ियों के बारे में जिन पर किसी फ्रेंचाइजी ने दांव नहीं खेला।टीम इंडिया के टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा पर भी किसी फ्रेंचाइजी ने भरोसा नहीं दिखाया। हालांकि आईपीएल में पुजारा पहले किंग्स इलेवन पंजाब और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेल चुके हैं। पुजारा का बेस प्राइज 1.5 करोड़ रुपये था।कोलकाता नाइटराइडर्स और दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेल चुके भारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी इस नीलामी में 50 के बेस प्राइज के साथ उतरे थे, पर अफसोस इस खिलाड़ी पर फ्रेंचाइजियों ने भरोसा नहीं दिखाया।राजस्थान रॉयल्स, दिल्ली डेयरडेविल्स  और सनराइजर्स हैदराबाद जैसी टीमों से खेल चुके विकेटकीपर-बल्लेबाज नमन ओझा को भी नीलामी में खाली हाथ लौटना पड़ा। ओझा का बेस प्राइज 75 लाख था, जिसे किसी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा।अपने तेज स्ट्राइक रेट से क्रिकेट फैंस का दिल जीतने वाले मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज सौरभ तिवारी को भी किसी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा। सौरभ तिवारी का बेस प्राइज 50 लाख रुपये था। सौरभ तिवारी वही खिलाड़ी हैं, जिनकी तुलना कभी टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी से की जाती थी। दोनों ही खिलाड़ी झारखंड से भी ताल्लुक रखते हैं।रॉयल चैंलजेंर्स बैंगलोर, मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए खेल चुके तेज गेंदबाज विनय कुमार पर भी किसी ने भरोसा नहीं दिखाया। नीलामी में विनय कुमार का बेस प्राइज 50 लाख रुपये था।इसके अलावा राहुल शर्मा (50 लाख), परवेज रसूल (50लाख), ऋषि धवन (50 लाख), मनप्रीत गोनी (50 लाख), इशान पोरेल (20) लाख और सचिन बेबी (20 लाख) को भी किसी ने नहीं खरीदा।