उत्तराखंड देश होम

छात्रा पर आग लगाने की घटना पर उबाल, आरोपित को फांसी की सजा की मांग

छात्रा पर आग लगाने की घटना पर उबाल, आरोपित को फांसी की सजा की मांग

हेनब केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय के पौड़ी परिसर की छात्रा के ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगाने की घटना से छात्र-छात्रओं में उबाल है। घटना से गुस्साए परिसर के छात्र-छात्रएं सोमवार को सड़कों पर उतर आए। आक्रोशित छात्र-छात्रओं ने आरोपित को फांसी की सजा दिलाने और छात्रा का सरकारी खर्चे पर इलाज कराने की मांग को लेकर कलक्ट्रेट के बाहर नारेबाजी की। बाद में प्रशासन का पुतला फूंक प्रदर्शनकारी धरने पर बैठ गए। इस दौरान कलेक्ट्रेट के बाहर कुछ देर के लिए वाहनों की आवाजाही भी बाधित रही।

गत रविवार सायं पौड़ी परिसर में द्वितीय वर्ष की छात्रा प्रयोगात्मक परीक्षा देकर स्कूटी से गांव लौट रही थी। आरोप है कि इसी बीच आरोपित कफोलस्यूं पट्टी के गहड़ गांव निवासी मनोज ने उसका पीछा किया। सुनसान स्थान पर छात्रा से छेड़छाड़ की कोशिश की। विरोध करने पर मनोज ने छात्रा पर पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जलाने का प्रयास किया। गंभीर हालत में छात्रा को ऋषिकेश एम्स में भर्ती कराया गया है। साथी छात्रा के साथ हुई घटना से छात्र-छात्रएं स्तब्ध हैं। सोमवार को कलक्ट्रेट पर एकत्र हुए छात्र-छात्रओं का कहना था कि छात्रा से हुई घटना से हर कोई आहत है।छात्रों ने कहा कि इस वारदात ने पहाड़ की शांत वादियों को शर्मसार कर दिया है। ऐसे में आरोपित को फांसी की सजा से कम क्षमा योग्य नहीं है। गुस्साए छात्र-छात्रओं ने विरोध स्वरुप कलक्ट्रेट के बाहर जमकर नारेबाजी की और धरने पर बैठ गए। चेतावनी दी कि उनकी मांगों पर अमल न हुआ तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान अपर जिलाधिकारी ने आंदोलित छात्र-छात्रओं से वार्ता की, लेकिन वे मांगों पर अडिग रहे। काफी देर तक नारेबाजी के बीच छात्रों की दूरभाष से क्षेत्रीय विधायक मुकेश कोली से भी वार्ता हुई। देर शाम छात्र-छात्रओं ने धरना स्थगित किया। इस मौके पर छात्र संघ अध्यक्ष अरविंद नैथानी, नितिन रावत, गौरव सागर, दीपक रावत, आशीष नेगी, सोनी, अर्शी कुरेशी, भारत भूषण, सिमरन भंडारी आदि शामिल थे।छात्रा के ऊपर पेट्रोल डालकर जलाने के आरोपित मनोज को रविवार रात ही पुलिस ने पकड़ लिया था। इस मामले में राजस्व उप निरीक्षक को छात्रा की दादी ने तहरीर दी थी। राजस्व पुलिस ने आरोपित मनोज के खिलाफ जानलेवा हमला, छेड़छाड़ और जान से मारने की धमकी देने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमा दर्ज होने के बाद सोमवार को पुलिस ने आरोपित को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया।