दिल्ली देश होम

105 नर्सरी स्कूलों में एडमिशन पर रोक, रद्द हो सकती है मान्‍यता : दिल्ली

दिल्ली: 105 नर्सरी स्कूलों में एडमिशन पर रोक, रद्द हो सकती है मान्‍यता

दिल्ली के 105 नर्सरी स्कूलों में एडमिशन पर रोक लगा दी गई है. कहा जा रहा है कि ये स्कूल एडमिशन ने नियम-कानून का पालन नहीं कर रही थी.  जिन स्कूलों में एडमिशन पर रोक लगाई गई है वहां कि मान्यता रद्द भी की जा सकती है.

आज से ही दिल्ली के नर्सरी स्कूलों में दाखिले की प्रक्रिया शुरू हुई है. करीब 1700 निजी स्कूलों में एडमिशन के लिए आवेदन पत्र मिलने शुरू हो गए हैं.

पैरेंट्स 7 जनवरी तक आवेदन फॉर्म जमा कर सकते हैं. आवेदन फॉर्म के लिए भी पैरेंट्स को ज्यादा भागदौड़ करने की जरूरत नहीं है क्योंकि कुछ स्कूलों में ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा है. अधिक जानकारी के लिए आप संबंधित स्कूल की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं.

शिक्षा निदेशालय (डीओई) ने अभिभावकों से विभाग द्वारा अग्रिम आदेश जारी होने तक इन स्कूलों से दाखिले को लेकर सम्पर्क नहीं करने का सुझाव दिया है, ताकि किसी भी डिफॉल्टर स्कूलों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की स्थिति में असुविधा से बच सके.डीओई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘दाखिला प्रक्रिया में पारदर्शिता और एकरूपता बनाए रखने के लिए, इन 150 स्कूलों में 2019-20 सत्र की नर्सरी की दाखिला प्रक्रिया अगले आदेशों तक स्थगित रहेगी.’

अधिकारी ने कहा, ‘अगर ऐसा पाया गया है कि ये स्कूल रोक लगाए जाने के बावजूद दाखिले कर रहे हैं, तो बिना कोई नोटिस जारी किए नियमों के तहत आवश्यक कार्रवाई की जाएगी.’ डीओई की ओर से जारी कार्यक्रम के अनुसार 2019-20 सत्र के लिए नर्सरी के दाखिले शनिवार से शुरू होने थे और आवेदन दायर करने की आखिरी तारीख सात जनवरी है.

चयनित बच्चों की पहली सूची चार फरवरी और दूसरी सूची 21 फरवरी को जारी की जाएगी. नर्सरी दाखिले की आवश्यक प्रक्रिया 31 मार्च को पूरी होगी.स्कूलों की मनमानी पर लगाम कसने के लिए शिक्षा निदेशालय ने स्कूलों के लिए कुछ गाइडलाइंस भी जारी किए हैं. उनकी गाइडलाइंस के मुताबिक स्कूल फॉर्म के शुल्क के तौर पर केवल 25 रुपए लेंगे. स्कूल पैरेंट्स से किसी तरह का कोई भी डोनेशन फीस नहीं वसूल सकते.

इतना ही नहीं निदेशालय ने ये साफ कर दिया है कि सारे स्कूलों में बच्चों को एडमिशन प्वाइंट सिस्टम के आधार पर ही मिलेगा. पहली एडमिशन लिस्ट से अगर पैरेंट्स को कोई भी दिक्कत है तो इसका निपटारा 5 फरवरी से 12 फरवरी के बीच किया जाएगा.