उत्तराखंड देश होम

छेड़छाड़ का विरोध करने पर सिरफिरे ने पेट्रोल छिड़ककर छात्रा को लगाई आग : उत्तराखंड

छात्रा को लगाई आग

देश को हिला देने वाले दिल्ली के निर्भया कांड की छठी बरसी के दिन उत्तराखंड भी शर्मसार हो गया। एक सिरफिरे ने परीक्षा देकर घर लौट रही छात्रा के ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी।

करीब 70 फीसदी झुलस चुकी छात्रा को गंभीर हालत में मेडिकल कॉलेज श्रीनगर में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना को लेकर क्षेत्रवासियों में भारी गुस्सा है।

पौड़ी जिले की कफोलस्यूं पट्टी के एक गांव की 18 वर्षीय युवती रविवार को बीएससी की प्रयोगात्मक परीक्षा देकर स्कूटी से घर लौट रही थी। रास्ते में गहड़ गांव का मनोज सिंह उर्फ बंटी उसका पीछा करने लगा।

कुछ देर बाद एक सुनसान जगह कच्चे रास्ते पर उसने छात्रा को जबरन रोककर उससे जबरदस्ती करनी शुरू कर दी। छात्रा के विरोध करने पर आरोपी ने उसके ऊपर पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी और मौके से फरार हो गया।

कुछ देर बाद मौके से गुजर रहे एक ग्रामीण ने छात्रा को जली हुई हालत में रास्ते में पड़ा देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। जानकारी मिलते ही हरकत में आई पुलिस मौके पर पहुंची और 108 एंबुलेंस की मदद से छात्रा को जिला चिकित्सालय पौड़ी लाई।

यहां डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद छात्रा को मेडिकल कॉलेज श्रीनगर रेफर कर दिया। डॉ. बीपी मौर्य और डॉ. पंकज कुमार शर्मा ने बताया कि छात्रा करीब 70 फीसदी झुलस गई है।

वहीं, अस्पताल लाते वक्त छात्रा से आरोपी की जानकारी मिलने पर कोतवाली पौड़ी के एसआई ओमप्रकाश के नेतृत्व में एक पुलिस टीम आरोपी की तलाश में गहड़ गांव रवाना कर दी गई।

जहां से देर शाम पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया। कोतवाल पौड़ी मनोज रतूड़ी और तहसीलदार सदर एचएम खंडूड़ी ने बताया कि मौके से स्कूटी और पेट्रोल की बोतल कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी गई है।

वारदात की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया, वहीं आरोपी गहड़ गांव निवासी मनोज सिंह उर्फ बंटी को हिरासत में ले लिया गया है। उसके खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की तैयारी की जा रही है।