देश राजनीती होम

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर अनिल अंबानी बोले, झूठे आरोपों का सच सामने आया

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर अनिल अंबानी बोले, झूठे आरोपों का सच सामने आया

रिलायंस एडीए समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी ने कहा है कि राफेल सौदे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से साबित हो गया है कि इसका राजनीतिक नजरिए से उनकी कंपनी के खिलाफ इस्तेमाल किया गया। सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए अंबानी ने कहा है कि इस मुद्दे का राजनीतिक झूठ सबके सामने आ गया है।

रिलायंस डिफेंस को राफेल विमान बनाने वाली कंपनी दासौ ने आफसेट पार्टनर बनाया है। कांग्रेस का आरोप है कि राफेल सौदे में सरकार ने रिलायंस को यह आफसेट दिलाने के लिए दासौ पर दबाव डाला। सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को केंद्र सरकार को राहत देते हुए इस सौदे में क्लीन चिट दे दी है।अंबानी ने फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए एक बयान में कहा, ‘मैं सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करता हूं जिसने राफेल सौदे को लेकर दायर सभी पीआइएल खारिज कर दी हैं। इससे यह साबित हो गया है कि सभी आरोप निराधार थे और रिलायंस समूह और मुझ पर राजनीतिक दृष्टि से प्रेरित होकर लगाये गये थे।’अपने बयान में अंबानी ने कहा है कि उनकी कंपनी देश की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति वचनबद्ध है और हम सरकार के मेक इन इंडिया और स्किल इंडिया की नीति में योगदान कर रहे हैं। खासतौर पर रक्षा जैसे रणनीतिक क्षेत्र में हमारा योगदान दासौ के साथ मिलकर हो रहा है। गौरतलब है कि फ्रांसीसी कंपनी दासौ भी स्पष्ट कर चुकी है कि रिलायंस डिफेंस को चुनने का काम कंपनी ने खुद किया है।