उत्तर प्रदेश देश होम

वाशिंग लिक्विड से बना दूध भी लखनऊ लैब ने किया पास, कोलकाता की लैब में चौंकाने वाला खुलासा

प्रतीकात्मक तस्वीर

वाशिंग लिक्विड मिलाकर बने दूध को भी खाद्य सुरक्षा विभाग लखनऊ की प्रयोगशाला ने पास कर दिया। रिपोर्ट पर संदेह होने पर खाद्य सुरक्षाधिकारी ने उसी सैंपल को जांच के लिए कोलकाता की लैब में भेजा तो दूध में डिटर्जेंट और न्यूट्रिलाइजर होने की पुष्टि हुई है।

लैब रिपोर्ट में दूध को मानव जीवन के लिए खतरनाक बताया। उस रिपोर्ट के आधार पर एडीएम कार्यालय में वाद दायर कराया जा रहा है। खाद्य विभाग की टीम ने 14 जून को थाना एका पुलिस के साथ ग्राम कताना में प्रमोद यादव के दुग्ध संग्रह केंद्र पर छापेमारी की थी।

मौके पर वाशिंग पाउडर खाद्य तेल और मिल्क पाउडर से बना 600 लीटर दूध भंडारित पाया गया था। अभिहित अधिकारी सय्यद शाहनवाज हैदर आबिदी ने बताया कि दूध का सैंपल नष्ट करा दिया था, जबकि आरोपी प्रमोद यादव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई।

उसके बाद उनकी गिरफ्तारी हुई थी। एक माह के कारावास के बाद आरोपी को एसीजेएम कोर्ट से जमानत मिल गई थी। लखनऊ की खाद्य लैब से दूध का नमूना पास घोषित कर दिया गया।

खाद्य सुरक्षाधिकारी अनिल कुमार इस रिपोर्ट से असंतुष्ट थे तो उस नमूने को कोलकाता की रैफरल लैब में भेज दिया।  उस लैब की रिपोर्ट में दूध में मिलावट की पुष्टि हुई है। जिला अभिहित अधिकारी ने बताया कि आरोपी पर मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है।