देश राजनीती होम

पहली बार ईसाई रीति-रिवाजों के साथ होगा शपथ ग्रहण : मिजोरम

मिजो नैशनल फ्रंट के नेता शनिवार को मंत्री पद की शपथ लेंगे। मिजोरममें ऐसा पहली बार होगा जब ईसाई रीति-रिवाजों के साथ किसी सरकार के मंत्री शपथ लेंगे। बाइबल के पदों के साथ इस मौके पर हैंडल के प्रसिद्ध ‘हेललुजाह कोरस’ जैसे धार्मिक भजन भी गाए जाएंगे। नवनिर्वाचित एमएनएफ विधायक लालरुत्किमा ने कहा कि मिजोरम में इस तरह का समारोह पहली बार होगा। उन्होंने कहा, ‘बाइबल के पद पढ़ने के बाद राष्ट्रगान गाया जाएगा।’

दो बार के मुख्यमंत्री और एमएनएफ के प्रमुख जोरामथंगा अपने साथियों के साथ शनिवार की दोपहर में राजभवन में शपथ लेंगे। चर्च के साथ काफी करीबी रिश्ते के लिए एमएनएफ को जाना जाता है। लाल थान्हावला शासन ने राज्य में शराब के निर्माण और आईएमएफएल की प्रतिबंधित बिक्री की अनुमति दी थी, जबकि एमएनएफ ने हमेशा से शराब के पूर्ण निषेध का समर्थन किया है।

बता दें कि मंगलवार को घोषित हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों में कांग्रेस महज पांच सीटों पर जीत पाई जबकि 2013 के विधानसभा चुनावों में उसने 34 सीटें जीती थीं। राज्य में कांग्रेस इसबार तीसरे नंबर पर आ गई। एमएनएफ को 26 सीटें मिलीं और जोराम पीपल्स मूवमेंट (जेडपीएम) को आठ सीटें मिलीं। बीजेपी ने भी आठ फीसदी वोट पाकर एक सीट के साथ राज्य में अपना खाता खोला। बीजेपी को बांग्लादेश की सीमा से लगे अल्पसंख्यक चकमा बहुल इलाके में एक निर्वाचन क्षेत्र से जीत मिली थी।