देश राजनीती होम

अपने अवैध कब्जे वाले सभी इलाकों को तत्काल खाली करे पाकिस्तान : सुषमा स्वराज

Sushma Swaraj

केंद्र सरकार ने बुधवार को लोकसभा में बताया कि भारत ने बार-बार पाकिस्तान से कहा कि वह अवैध कब्जे वाले सभी इलाकों को तत्काल खाली करे। इस्लामाबाद से पिछले महीने भी यही बात कही गई है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने एक सवाल के जवाब में कहा कि भारत का हमेशा से और सैद्धांतिक मत रहा है कि पूरा जम्मू-कश्मीर राज्य भारत का अभिन्न हिस्सा रहा है और सदैव रहेगा। पाकिस्तान ने अवैध रूप से भारत के जम्मू-कश्मीर राज्य के करीब 78000 वर्ग किलोमीटर इलाके पर कब्जा कर रखा है।

सुषमा ने अपने लिखित जवाब में बताया कि चीन और पाकिस्तान के बीच 2 मार्च 1963 को हुए तथाकथित सीमा समझौते के तहत इस्लामाबाद ने जम्मू-कश्मीर में कब्जे वाले भारतीय क्षेत्र के 5180 वर्ग किलोमीटर हिस्से को चीन को सौंप दिया था।

उन्होंने बताया कि हम लगातार और बार-बार पाकिस्तान से कहते रहे हैं कि वह अवैध कब्जे वाले सभी इलाकों को तत्काल खाली कर दे। 30 नवंबर 2018 को भी इस बारे में उससे यह मांग की गई है। हालांकि उन्होंने जवाब में यह नहीं बताया कि पाकिस्तान के साथ यह मुद्दा कहां उठाया गया। उन्होंने अपने जवाब में जोर देकर कहा कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के एक हिस्से पर अवैध और जबरन कब्जा किए हुए है।

दोकलम में वर्ष 2014-18 के बीच घुसपैठ की संख्या संबंधी सवाल के लिखित जवाब में विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने बताया कि दोकलम भूटान का हिस्सा है। सरकार चीन की ओर से वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के उल्लंघन के मुद्दे को स्थापित तंत्र और राजनयिक चैनल के जरिए उठाता रही है। राफेल विमानों की खरीद के लिए फ्रांस सरकार के साथ विदेश मंत्रालय या किसी अधिकारी के शामिल होने या किसी समझौते पर हस्ताक्षर किए जाने संबंधी सवाल पर सिंह ने न में जवाब दिया।