देश होम

पाकिस्तान भारत के खिलाफ कर रहा तालिबान का इस्तेमाल: अमेरिका

पाकिस्तान भारत के खिलाफ कर रहा तालिबान का इस्तेमाल: अमेरिका

अमेरिका के एक शीर्ष कमांडर ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान की पोल खोली है। उन्होंने अमेरिकी सांसदों से कहा कि आतंकवाद के मसले पर पाकिस्तान के रुख में कोई खास बदलाव नहीं आया है। वह भारत के खिलाफ लगातार तालिबान का इस्तेमाल कर रहा है। पाकिस्तान में आतंकी संगठनों की सुरक्षित पनाहगाह के खिलाफ भी वह कोई ठोस कदम उठाने में विफल रहा है।

मरीन कोर के लेफ्टिनेंट जनरल केनेथ मैकेंजी के इस बयान से कुछ दिन पहले ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को पत्र लिखकर अफगान शांति प्रक्रिया में मदद मांगी थी। उन्होंने कहा था कि तालिबान को बातचीत की टेबल पर लाने में मदद करें। ट्रंप प्रशासन ने अफगानिस्तान में शांति के लिए हाल के महीनों में प्रयास तेज किए हैं।

अफगानिस्तान में 2001 से जारी संघर्ष में अमेरिका 2400 से ज्यादा सैनिक गंवा चुका है। यूएस सेंट्रल कमांड के कमांडर पद पर अपनी नियुक्ति को लेकर संसद में सुनवाई के दौरान मैकेंजी ने मंगलवार को सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति से कहा, ‘अफगानिस्तान में दीर्घकालीन शांति के लिए पाकिस्तान अनिवार्य तत्व है।पाकिस्तान तालिबान और अफगान सरकार के बीच बातचीत में अहम भूमिका निभा सकता है। लेकिन यह प्रतीत हो रहा है कि वह तालिबान को बातचीत की टेबल पर लाने के लिए अपने प्रभाव का पूरा इस्तेमाल नहीं कर रहा। हम लगातार यह देख रहे हैं कि स्थिर अफगानिस्तान की जगह तालिबान का इस्तेमाल भारत के खिलाफ किया जा रहा है।’ उन्होंने सांसदों से कहा कि अफगानिस्तान या आतंकी संगठनों को लेकर पाकिस्तान के रुख में कोई बड़ा बदलाव नहीं आया है।