देश राजनीती होम

बीजेपी की रथ यात्रा से पहले फाड़े गए अमित शाह के पोस्टर : पश्चिम बंगाल

फोटो-इंद्रजीत कुंडू

पश्चिम बंगाल में बीजेपी की रथ यात्रा को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की ओर से हरी झंडी दिखाए जाने से पहले पार्टी के पोस्टर-बैनर कुछ शरारती तत्वों की ओर से फाड़े जाने का दावा किया गया है. ये दावा बीजेपी की प्रदेश यूनिट की ओर से किया गया है. पार्टी का कहना है कि पोस्टर-बैनर फाड़े जाने की घटना कूचबिहार में हुई है.

रथयात्रा के लिए कूचबिहार को माथाभांगा और दिनहाटा को जोड़ने वाले हाईवे पर कई जगह बीजेपी की ओर से स्वागत द्वार बनाए गए. बुधवार सुबह बीजेपी कार्यकर्ताओं ने घुघुमारी पर ऐसे ही एक द्वार को टूटा पाया. अमित शाह की तस्वीर वाला एक फ्लैक्स बोर्ड भी फटा हुआ पाया गया.

बीजेपी के एक स्थानीय कार्यकर्ता चयन दास ने बताया, “बीती रात कुछ शरारती तत्वों ने हमारे पोस्टरों को फाड़ा. हमें शक है कि ये करतूत टीएमसी के गुंडों की है. अगर वो समझते हैं कि वो हमें ऐसी हरकतों से डरा सकते हैं तो हम उन्हें बताना चाहते हैं कि हम अमित शाह जी की रथ यात्रा में बड़ी संख्या में हिस्सा लेंगे.”

कूचबिहार में अमित शाह की रथ यात्रा से कुछ घंटे पहले पार्टी के बंगाल मामलों के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि अभी तक इस कार्यक्रम के लिए ममता बनर्जी के प्रशासन से आवश्यक अनुमति नहीं मिली है.

विजयवर्गीय के मुताबिक राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को कई बार लिखने के बावजूद अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है. बीजेपी ने कलकत्ता हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर इस मामले में दखल देने की गुहार लगाई है.

बीजेपी की योजना के मुताबिक अमित शाह राज्य में तीन अलग अलग रथों को रवाना करेंगे जो राज्य के सभी 42 लोकसभा क्षेत्रों को कवर करेंगे. शाह पहले दौर की शुरुआत उत्तर बंगाल के कूचबिहार से 7 दिसंबर को करेंगे. दूसरा दौर 9 दिसंबर को दक्षिण 24 परगना के सागर से शुरू होगा. इसी तरह तीसरे दौर की शुरुआत 14 दिसंबर को बीरभूम के तारापीठ से होगी.

एक महीने तक चलने वाली इस यात्रा में बीजेपी के कई स्टार वक्ता हिस्सा लेंगे. इस दौरान असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देव भी शामिल हो सकते हैं. तीनों रथ यात्राओं का समापन कोलकाता में जनवरी में होगा. पार्टी को उम्मीद है कि समापन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रैली को संबोधित कर सकते हैं.

बीजेपी के बंगाल अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, “हमारी रथ यात्रा बहुत कामयाब होगी क्योंकि टीएमसी खुद ही इसकी वजह है. उन्होंने इसे सफल बनाने के लिए ठानी है. उनके लगातार रुकावटें डालने से लोग हमारी रैली को लेकर ज्यादा उत्सुक हैं. कुछ भी हो हम अपनी यात्रा शुरू करेंगे और इसे तय कार्यक्रम के मुताबिक अंजाम तक ले जाएंगे.”

वहीं टीएमसी नेता मदन मित्रा ने बीजेपी के कार्यक्रम को पार्टी की विदाई यात्रा करार दिया. मित्रा ने कहा, ‘निश्चित तौर पर ये सदी का सबसे बड़ा फ्लॉप शो साबित होगा.’