देश मनोरंजन होम

फिल्म निर्माताओं को खींच रही उत्तराखंड की खूबसूरती, राजकुमार संतोषी की फिल्म की होगी शूटिंग

फिल्म निर्माताओं को खींच रही उत्तराखंड की खूबसूरती, राजकुमार संतोषी की फिल्म की होगी शूटिंग

फ़िल्म बत्ती गुल-मीटर चालू , केदारनाथ के बाद अब एक और फ़िल्म की शूटिंग उत्तराखंड में होने जा रही है. बॉलीवुड फिल्म निर्माता निर्देशक राजकुमार संतोषी भारत-पाकिस्तान विभाजन पर बनने वाली अपनी फिल्म की शूटिंग उत्तराखंड में करेंगे. फिल्म की शूटिंग मई 2019 से शुरू हो जाएगी. वह अपनी एक और फिल्म की शूटिंग भी उत्तराखंड में करने जा रहे हैं.

बॉलीवुड के फिल्म निर्माताओं को अब उत्तराखंड की खूबसूरती अपनी ओर खींचती जा रही है. अब फिल्म निर्माता-निर्देशक भी उत्तराखंड को फिल्म शूटिंग के हिसाब से एक बेहतर डेस्टिनेशन के तौर पर देख रहे हैं और उत्तराखंड आ भी रहे हैं. हाल ही में शाहिद कपूर की फिल्म बत्ती गुल मीटर चालू की शूटिंग  उत्तराखंड में हो चुकी है , ये ही नहीं  केदारनाथ पर भी फिल्म  बन चुकी है  इसके अलावा पहले भी निर्माता- निर्देशक उत्तराखंड के कई लोकेशन में अपनी फिल्में शूट कर चुके हैं .

अब उत्तराखंड में एक और फिल्म की शूटिंग होने जा रही है. ये फिल्म निर्माता-निर्देशक राजकुमार संतोषी की है जो कि भारत और पाकिस्तान के बंटवारे पर आधारित है . इसके अलावा राजकुमार संतोषी देहरादून या इसके आसपास के क्षेत्र में एक फिल्म स्टूडियो भी खोलना चाहते हैं और इसका प्रस्ताव उन्होंने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के सामने भी रखा है.

मंगलवार को निर्माता-निर्देशक राजकुमार संतोषी ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र सिंह रावत से अपनी फिल्म को लेकर मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री के सामने अपनी मंशा भी जाहिर की . राजकुमार संतोषी एक और फिल्म की शूटिंग उत्तराखंड में करना चाहते हैं .

नैसर्गिक सौंदर्य से भरपूर उत्तराखंड की वादियां फिल्मों की शूटिंग के लिए एक बड़ा बाजार बन सकती है. राज्य में फिल्म की शूटिंग के लिए लोकेशन की अपार विविधता है. हर्षिल में शूट हुई राम तेरी गंगा मैली फिल्म आज तक भी दर्शकों की पसंदीदा फिल्म रही है और इस फिल्म में फिल्माए गए उत्तराखंड के खूबसूरत नजारों को बयां करते दृश्य हर किसी का मन मोह लेते हैं. उत्तराखंड प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है और यहां ऐसे बहुत से अनछुए लोकेशन है जो अभी तक भी फिल्म मेकर्स के कैमरे में कैद नहीं हो पाए हैं.

सरकार ने भी इन्वेस्टर्स समिट के जरिए फिल्म निर्माता निर्देशकों से मुलाकात कर उन्हें उत्तराखंड में शूटिंग के लिए आने का न्योता दिया है . अब राज्य सरकार की कोशिश है कि उत्तराखंड की खूबसूरत वादियों को भी फिल्म शूटिंग के लिए फिल्मेकर्स की पसंदीदा जगह बनाया जाए जैसे कि स्विजरलैंड है. इसके लिए अपनी फिल्म नीति में भी कुछ बदलाव करने जा रही है ताकि उत्तराखंड आने वाले फिल्म निर्माताओं को अधिक सहूलियत दी जा सके . इससे स्थानीय स्तर पर भी रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और युवाओं को रोजगार भी मिल सकेगा .