उत्तराखंड देश होम

न दुकान का ताला टूटा, न टूटी तिजोरी फिर भी लाखों के जेवरात चोरी

न दुकान का ताला टूटा, न टूटी तिजोरी फिर भी लाखों के जेवरात चोरी

सिविललाइंस में सर्राफ की दुकान से लाखों की कीमत के जेवरात चोरी हो गए। न तो दुकान का ताला टूटा और न ही तिजोरी। दुकान में रखे जेवरात का हिसाब मिलाने पर चोरी की जानकारी हुई। पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर दिया है। फिलहाल, नौकर पर शक की सुई अटकी हुर्इ है।

सिविललाइंस कोतवाली क्षेत्र के जादूगर रोड निवासी आशीष गुप्ता की बाजार में लक्ष्मी ज्वैलर्स के नाम से दुकान है। दुकान से पिछले कुछ समय से सोने के जेवरात गायब हो रहे थे। इसकी जानकारी सर्राफ को नहीं हुई। दो दिन पहले आशीष गुप्ता ने दुकान पर रखे माल और बेचे गए माल का हिसाब मिलाना शुरू किया तो पता चला कि दुकान से कुछ जेवरात गायब हैं।

मिलान करने पर पता चला कि चार सोने की चेन और सोने-चांदी के अन्य जेवरात समेत कुछ नकदी गायब है। जिसके बाद सर्राफ कारोबारी के होश उड़ गए। आनन-फानन में पीड़ित ने सिविललाइंस कोतवाली पुलिस को मामले की तहरीर दी। इंस्पेक्टर अमरजीत सिंह ने बताया कि सर्राफ कारोबारी की तहरीर पर पुलिस ने चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया है। उन्होंने बताया कि कारोबारी ने दुकान के नौकर पर शक जताया है। पुलिस मामले की जांच हर पहलू से कर रही है। लाखों की चोरी के मामले में पुलिस ने जब सीसीटीवी कैमरे के बारे में जानकारी ली तो पता चला कि दुकान में सीसीटीवी कैमरे ही नहीं है। सर्राफ ने बताया कि पिछले साल दीपावली के समय दुकान में आग लग गई थी। जिसके चलते सीसीटीवी कैमरे भी बेकार हो गए थे। तभी से दुकान में कैमरे नहीं लगे हैं। पुलिस को आशंका है कि दुकान में सीसीटीवी कैमरे नहीं होने की खबर नौकर को थी। जिसका फायदा उठाकर उसने ही माल गायब किया है। पुलिस ने दुकान में कैमरे लगाने को भी कहा है।