खेल

इंग्‍लैंड ने भारत को 8 विकेट से रौंदा, फाइनल में ऑस्‍ट्रेलिया से होगी भिड़ंत

इंग्‍लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में भारत के लिए कुछ भी ठीक नहीं रहा. अनुभवी खिलाड़ी मिताली राज को प्‍लेइंग इलेवन से बाहर करके स्पिन पिच को देखते हुए अनुजा पाटिल को शामिल किया गया, लेकिन वो बेदम दिखीं. जबकि भारतीय टीम 89/2 से यकायक फिसल कर 112 रन ढेर हो गई. भारत ने 23 रन के अंदर अपने अंतिम 8 विकेट गंवाए, जो कि हार का सबसे बड़ा कारण है. इसके अलावा भारतीय स्पिनर्स अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहीं. टूर्नामेंट में बिना हारे सेमीफाइनल में पहुंचने वाली भारतीय टीम के इंग्‍लैंड के खिलाफ खराब प्रदर्शन से हर कोई हैरान हैं.

बहरहाल, भारत ने 19.3 ओवर में 112 रन बनाए हैं, जिसमें मंधाना ने 34 और रोड्रिगेज ने 26 रन की बड़ी पारियों खेली हैं. जबकि इंग्‍लैंड के लिए हैदर नाइट ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए. इंग्‍लैंड को 113 रन का लक्ष्‍य मिला है. भारतीय कप्‍तान हरमनप्रीत कौर ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी का निर्णय लिया है. जबकि इंग्‍लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में टीम की सीनियर खिलाड़ी मिताली राज को प्‍लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली है. उनकी जगह ऑफ स्पिनर अनुजा पाटिल को शामिल किया गया है. दरअसल, नॉर्थ साउंड की पिच स्पिन गेंदबाजों के लिए मददगार है.

भारत ने 2010 के बाद से पहली बार टी20 विश्व कप सेमीफाइनल में जगह बनाई थी, लेकिन हरमनप्रीत कौर की टीम इंग्‍लैंड से पिटकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई. भारत ने एक भी बार टी20 विश्व कप का फाइनल नहीं खेला है. जबकि 2009 विश्व कप जीतने वाली इंग्‍लैंड ने चौ‍थी बार फाइनल में जगह बनाई है. उसके अलावा उसे 2012 और 2014 में दो बार ऑस्ट्रेलिया ने खिताब जीतने से रोक दिया था.