दिल्ली देश होम

दिल्ली में लगे जैश-ए-मोहम्मद के दो खूंखार आतंकियों के पोस्टर : हाई अलर्ट

दिल्ली में लगे जैश-ए-मोहम्मद के दो खूंखार आतंकियों के पोस्टर, हाई अलर्ट पर पुलिस

पंजाब के अमृतसर में विस्फोट के बाद दिल्ली में भी आतंकी हमले के खतरे को देखते हुए पुलिस को दो कथित आतंकियों की तलाश है। इस बाबत पुलिस ने दोनों के पोस्टर जारी कर किए हैं। खासतौर से इन दोनों के पोस्टर दिल्ली के सभी रेलवे स्टेशनों, बस स्टैंड और भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर लगाए गए हैं। पोस्टरों में दोनों कथित आतंकी उर्दू में लिखे एक माइल स्टोन के साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं, जिस पर फिरोजपुर 9 किलोमीटर और दिल्ली 360 किलोमीटर लिखा हुआ दिखाई दे रहा है। पुलिस को इनके दिल्ली-एनसीआर में घुस होने की आशंका है। बता दें कि पंजाब के अमृतसर विस्फोेट के दो दिन बाद मंगलवार दिल्ली पुलिस ने आशंका जाहिर की है कि जैश ए मोहम्मद के दो संदिग्ध दिल्ली में भी हमले को अंजाम दे सकते हैं।

यहां पर याद दिला दें कि खुफिया एजेंसियों ने पंजाब में जैश-ए-मोहम्मद के छह से सात आतंकियों के घुसने की आशंका जताई थी। बताया जाता है के ये आतंकी दिल्‍ली में भी घुसने की फिराक में हैं। पुलिस ने 16 नवंबर को ही इन आतंकियों के फोटो लगे पोस्टर जारी किए हैं। पूरे पंजाब में अलर्ट जारी किया गया है। दिल्‍ली पुलिस को भी अलर्ट कर दिया गया है। पुलिस मुख्यालय को भेजे गए इनपुट के मुताबिक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की शाखाएं आतंकियों के निशाने पर हैं। इसके अलावा आरएसएस के बड़े नेताओं, राजनीतिक पार्टियों की सभाओं, पार्कों व अन्य स्थानों पर होने वाले समागमों पर भी हमला किया जा सकता है। पूरे पंजाब में अलर्ट जारी करते हुए नाकेबंदी कर सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

यहां पर बता दें कि पंजाब के अमृतसर के निरंकारी भवन में हुए बम धमाके के बाद दिल्‍ली एनसीआर के लिए पहले ससे ही हाई अलर्ट जारी है। नोएडा के कई स्‍थानों पर चेकिंग शुरू कर दी गई है। मिली जानकारी के अनुसार पंजाब के राजासांसी क्षेत्र के आदिवाल गांव में सत्‍संग के दौरान बम धमाका हुआ है। इसके बाद से दिल्‍ली और यूपी पुलिस एक्‍शन में आ गई है। दिल्ली के बुराड़ी सन्त निरंकारी आश्रम की भी इस हमले के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है।पंजाब के अमृतसर एयरपोर्ट से करीब पांच किलोमीटर दूर निरंकारी आश्रम में हुए बम विस्फोट के बाद राजधानी दिल्ली में भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। खासकर इस घटना के बाद मुखर्जी नगर इलाके के निरंकारी कॉलोनी में बने संत निरंकारी सत्संग भवन सहित बुराड़ी बाईपास स्थित निरंकारी परिसर, कांपलेक्स आदि जगहों पर पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।


उल्लेखनीय है कि दिल्ली में इस बार संत निरंकारी मिशन की ओर से आयोजित वार्षिक सम्मेलन का आयोजन नहीं किया जा रहा है, जबकि आयोजन यहां से तकरीबन 60 किलोमीटर दूर हरियाणा के सोनीपत के समालखा में किया जा रहा है। इस आयोजन को लेकर शुक्रवार को ही समालखा में रोशन मीनार नमक कार्यक्रम आयोजित कर मानव श्रृंखला बनाकर रिकॉर्ड कायम किया गया है। समलखा में 24 नवंबर से 3 दिनों तक वार्षिक समागम का आयोजन होगा।