दिल्ली देश राजनीती होम

केजरीवाल पर हमले का वीडियो आया सामने

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मिर्च पाउडर से हमला. फोटो- ANI

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मिर्च से हमला करने वाले आरोपी का पास मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से ही जारी किया गया था. दिल्ली पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी अनिल शर्मा अपनी मां के मेडिकल ट्रीटमेंट की एप्लीकेशन लेकर सचिवालय गया था. आरोपी की मां बीमार है. वह सहायता के लिए सीएम से मिलने पहुंचा था. उसी आधार पर उसे एंट्री मिली. इधर इस हमले का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आ गया है.

पुलिस पूछताछ में अनिल ने खुद को सच्चा देशभक्त बताया. अनिल कह रहा है कि वह देश के लिए काम करता है देश के लिए सोचता है. फिलहाल सचिवालय में ही पुलिस अधिकारी उससे पूछताछ कर रहे हैं. दिल्ली पुलिस ने कहा है कि अभी तक की जांच में यह बात सामने आई है कि सीएम के ऊपर चिली पाउडर नहीं फेंका गया.

एडिशनल डीसीपी ने कहा कि आरोपी सीएम आफिस से एंट्री पास मिलने के बाद दाखिल हुआ. वह खुद को देशभक्त बता रहा है. पढ़ा-लिखा है. अभी तक किसी राजनीतिक पार्टी से किसी तरह के कनेक्शन की बात सामने नहीं आई है.

आरोपी ने कहा कि केजरीवाल देश का गद्दार है. उसने कहा कि वह पुराना बदला लेने आया था. उसके कहा कि केजरीवाल ने देशभक्त को छला है.

गौरतलब है कि आज दोपहर सचिवालय में तीसरे फ्लोर में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मिर्च से हमला करने की खबर आई थी. अनिल नारायणा, दिल्ली का रहने वाला है. दोपहर करीब 2 बजकर 10 मिनट पर जिस वक्त अरविंद केजरीवाल लंच करने जा रहे थे, तभी आरोपी ने मिर्च फेंकने की कोशिश की.

आम आदमी पार्टी ने इस हमले के फौरन बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस हमले के पीछे बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है.  आप नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि लोगों में संदेश दिया जा रहा है कि अगर ‘आप’ नेताओं पर हमला करेंगे तो आपका कुछ नहीं बिगड़ेगा. केंद्र सरकार पूरी मदद करेगी कि उसको कोई सजा नहीं मिलेगी. जो भी असामाजिक तत्व हैं, उन्हें ये संदेश दिया जा रहा.

सौरभ भारद्वाज ने नाथू राम गोडसे का जिक्र करते हुए कहा कि इसी तरह का संदेश आज भी दिया जा रहा कि अगर आप नेताओं पर हमला करेंगे तो कुछ नहीं बिगड़ेगा. हमें यकीन है कि इस हमले के तार भाजपा से जुड़े हुए होंगे. पूरा माहौल भाजपा द्वारा प्रायोजित किया गया है. मोदी प्रशासन केजरीवाल पर हमला करने वालों की पूरी तरह मदद कर रही है. ये मुख्यमंत्री की हत्या करने का प्रयास किया जा रहा है. आज ये हमारे साथ हो रही, कल यही दूसरी पार्टियों के साथ भी होगा. वहीं राघव चड्ढा ने कहा कि मोदी सरकार अपराधियों को पूरा संरक्षण दे रही है.

वहीं दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि  मुख्यमंत्री बिलकुल ठीक हैं. उनके साथ धक्का-मुक्की की गई है. उनका चश्मा टूट गया है. सिसोदिया ने सवाल किया कि आखिर मुख्यमंत्री के ऑफिस के बाहर ऐसा कैसे हुआ? ऐसी तीन घटनाएं हुई हैं. लेकिन किसी में भी कोई कार्रवाई नहीं हुई है. ये इस तरह जो लगातार हमले करवाए जा रहे हैं, इससे भाजपा सोच रही है कि हम डर जाएंगे तो ऐसा नहीं है.

राज्य के मुख्यमंत्री पर हमला होने की भारतीय जनता पार्टी ने निंदा की है. बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा की कोई जगह नहीं है, जिसने भी ऐसा किया है उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए.