देश राजनीती होम

उद्धव ठाकरे बोले- हर हिंदू की यही पुकार, पहले मंदिर-फिर सरकार

उद्धव 24 और 25 नवंबर को अयोध्या जा

शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे ने राम मंदिर मुद्दे पर अपना रुख आक्रमक कर लिया है। शिवसेना इस मुद्दे पर मोदी और योगी सरकार पर निशाना साधती रही है। अब एक बार फिर पार्टी ने साफ कर दिया है कि उसे राम मंदिर के निर्माण से कम कुछ और मंजूर नहीं है। खुद उद्धव 24 और 25 नवंबर को अयोध्या जा रहे हैं। वो वहां रामलला के दर्शन करने के साथ ही सरयू तट पर पूजा अर्चना भी करेंगे। अयोध्या जाने से पहले उद्धव ने एक नया नारा दिया है। पार्टी की एक अहम मीटिंग के बाद शिवसेना सुप्रीमो ने कहा कि लोकसभा चुनाव के पहले राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ हो जाना चाहिए।2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं और इसके पहले राम मंदिर के निर्माण का मुद्दा सियासी तौर पर गरमाने लगा है। उद्धव की मीटिंग में सिर्फ राज्य इकाई के नेता ही नहीं थे बल्कि दूसरे प्रदेशों से आए नेता भी इसमें शामिल हुए। बाद में उद्धव ने उस नारे को सामने रखा जो लोकसभा चुनाव के पहले शिवसेना जनता को देने जा रही है। शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे ने कहा- हर हिंदू की यही पुकार, पहले मंदिर- फिर सरकार। यानी अगले साल लोकसभा चुनाव में सरकार बाद में बने लेकिन पहले राम मंदिर बन जाना चाहिए।अयोध्या में 25 नवंबर को धर्म संसद होने जा रही है। इसका आयोजन विश्व हिंदू परिषद यानी वीएचपी (VHP) ने किया है। लखनऊ समेत राज्य के कई शहरों में इस हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने शांतिपूर्ण रैलियां निकालीं। कार्यकर्ताओं और नेताओं ने लोगों से अनुरोध किया कि राम मंदिर के निर्माण के लिए जनमत का सामने आना जरूरी है इसलिए अयोध्या में होने वाली धर्म संसद में जरूर पहुंचें। इस बारे में यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने एक सवाल के जवाब में कहा- जो भी चाहे उसमें शामिल हो सकता है। ये सरकारी द्वारा आयोजित नहीं है। जो लोग इसमें शामिल होना चाहते हैं वो ऐसा कर सकते हैं। उन पर कोई रोक नहीं है।