दिल्ली देश होम

भारत में घुसे जैश के 6 आतंकी, दिल्ली की तरफ बढ़ रहे

पाकिस्तान में सक्रिय आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के कम से कम 6 आतंकी नापाक मंसूबे के साथ भारत में घुस आए हैं। पंजाब पुलिस की काउंटर इंटेलिजेंस विंग ने अलर्ट करते हुए कहा है कि राज्य में जैश के आतंकी मौजूद हैं। इसके बाद राज्य में हाई अलर्ट है। खुफिया इनपुट में यह भी कहा गया है कि हो सकता है कि पाकिस्तान से आए ये आतंकी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की तरफ बढ़ रहे हों। रिपोर्ट में बताया गया है कि ये आतंकी फिरोजपुर क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सीमा से भारत में घुसे हैं।हमारे सहयोगी न्यूज चैनल टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक काउंटर इंटेलिजेंस इंस्पेक्टर जनरल द्वारा जारी पत्र में कहा गया है, ‘कम से कम 6 से 7 आतंकवादी कथिततौर पर पंजाब में मौजूद हैं। इनके फिरोजपुर इलाके में होने की संभावना है। ये पंजाब से दिल्ली की तरफ बढ़ने की प्लानिंग कर रहे हैं।’ नोट में प्रशासन से सुरक्षा चाक-चौबंद करने को कहा गया है खासतौर से बॉर्डर और राज्य के चेक पॉइंट्स पर।

नोट के मुताबिक, ‘भारत-पाकिस्तान सीमा पर सेकंड लाइन ऑफ डिफेंस की समीक्षा कर इसे और मजबूत करने की जरूरत है। इसके साथ ही BSF और दूसरे पुलिस/डिफेंस प्रतिष्ठानों के साथ मिलकर काम करने की जरूरत है।’ आपको बता दें कि यह खुफिया अलर्ट ऐसे समय में आया है जब एक दिन पहले ही माधोपुर इलाके के पास चार लोग गनपॉइंट पर एक टैक्सी लेकर फरार हो गए थे। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि 2016 में हुए पठानकोट एयरबेस हमले की तरह कोई अटैक करने की साजिश हो सकती है। गुरदासपुर के एसएसपी स्वर्णदीप सिंह ने कहा, ‘पंजाब पुलिस ने आतंकवादी जाकिर मूसा के पोस्टरों को रिलीज किया है। मूसा के अमृतसर के पास मूवमेंट्स के इनपुट्स हमें मिले हैं, इसलिए हमने आम लोगों को सचेत करने और उनके पास यदि कोई जानकारी हो तो साझा करने को कहा है।’ सिल्वर कलर की टोयोटा इनोवा जम्मू से चार लोगों ने हायर की थी। उन्होंने इसे पठानकोट के लिए बुक किया था। पुलिस ने बताया है कि माधोपुर के पास संदिग्ध आतंकियों ने गनपॉइंट पर ड्राइवर को कार से उतरने पर मजबूर कर दिया। राहगीर की मदद से ड्राइवर ने पुलिस को घटना की सूचना दी।

आपको बता दें कि पाकिस्तान से आए आतंकियों ने 2 जनवरी 2016 को भारतीय वायुसेना के पठानकोट एयरबेस पर हमला किया था। इस हमले में सात लोगों की जान चली गई थी। इस हमले से पहले संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकियों ने गुरदासपुर जिले के दीनानगर टाउन में भी हमला किया था। 27 जुलाई 2015 को हुए दीनानगर आतंकी हमले में तीन पाकिस्तानी आतंकी बॉर्डर बेल्ट से ही घुसे थे।