दिल्ली देश होम

अमृतसर में दिखा खूंखार आतंकी जाकिर मूसा, दिल्ली में घुसने की आशंका

जाकिर मूसा (फाइल फोटो: पीटीआई)

जम्मू-कश्मीर में सक्रिय खूंखार आतंकी जाकिर मूसा को उसके साथियों के साथ पंजाब के अमृतसर में देखे जाने की खबर है. पंजाब पुलिस की खुफिया एजेंसी ने गुरुवार को सूचित किया कि जैश-ए-मोहम्मद के 6 से 7 आतंकवादी राज्य से दिल्ली की ओर जाने की साजिश रच रहे हैं, जिसके बाद राज्य पुलिस सतर्क हो गई है.

पंजाब के पुलिस महानिरीक्षक (काउंटर इंटेलीजेंस) कार्यालय द्वारा जारी पत्र के अनुसार जानकारी मिलने के बाद पुलिस आयुक्त और जिला पुलिस प्रमुख को अलर्ट कर दिया गया है. जिसमें कहा गया कि सूचना के अनुसार  जैश आतंकवादियों का समूह भारत के पंजाब में है औरदिल्ली की ओर बढ़ने की साजिश रच रहा है. जिसके बाद पूरे पंजाब में अलर्ट जारी कर उसकी तलाश की जा रही है और बॉर्डर एरिया में सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

गुरदासपुर के एसएसपी स्वर्णदीप सिंह ने बताया कि खूंखार आतंकी जाकिर मूसा और उसके साथियों को अमृतसर में देखा गया था, जिसके बाद  गुरदासपुर और दीनानगर थाने में पोस्टर जारी कर उसकी तलाश की जा रही है और वाहनों की भी चेकिंग की जा रही है. वहीं इंटेलिजेंस ब्यूरो की तरफ से एक पत्र जारी किया गाय है, जिसमें आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 7 सदस्यों के पंजाब के फिरोजपुर में देखे जाने की बात कही जा रही है. लिहाजा अब पूरे पंजाब में अलर्ट जारी कर दिया गया है.

गौरतलब है कि बुधवार की सुबह पंजाब के पठानकोट जिले के माधोपुर इलाके से 4 संदिग्धों द्वारा गन पॉइंट पर एक इनोवा गाड़ी छीनने का मामला सामने आया था. फिलहाल पंजाब पुलिस को इन चारों संदिग्धों का सीसीटीवी फुटेज मिला है, लेकिन इनके द्वारा छीनी गई कार और इनके बारे में पुख्ता जानकारी अभी पुलिस के पास नहीं है. पुलिस का अनुमान है कि पठानकोट से सटे हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में ये संदिग्ध कार के साथ छिपे हो सकते हैं. लिहाजा हिमांचल में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है. पुलिस इन संदिग्धों को पंजाब में घुसे आतंकियों से भी जोड़कर देख रही है.

साल 2016 में पाठानकोट एयरफोर्स स्टेशन पर हुए हमले से सीख लेते हुए, आर्मी के तमाम बेस कैंप और एयरफोर्स स्टेशन की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. पंजाब पुलिस को इस पूरे मामले में उसी तरह की Modus Operandi का शक हो रहा है जैसा कि पठानकोट एयर फोर्स स्टेशन पर हमले के दौरान आतंकियों द्वारा किया गया था.