Breaking News देश होम

मारा गया मसूद अजहर का भतीजा, बौखलाए आतंकियों ने दी बदला लेने की धमकी

सुरक्षाबलों ने मंगलवार को बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए खूंखार आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के भतीजे अबु उस्मान हैदर समेत दो आतंकियों को मार गिराया। सुरक्षाबलों को यह कामयाबी दक्षिण कश्मीर के त्राल में छह घंटे चली भीषण मुठभेड़ में मिली।

पाकिस्तान के रहने वाले उस्मान को घाटी में सुरक्षाबलों के लिए नया सिरदर्द बने जैश के स्नाइपर शूटर दस्ते का डिप्टी कमांडर बताया जाता था। मुठभेड़ के दौरान आतंकी जिस घर में रह रहे थे वह भी पूरी तरह तबाह हो गया है। मारे गए आतंकियों से एक क्षतिग्रसत एम 4 कार्बाइन राइफल और एक अंडर बैरेल ग्रेनेड लांचर युक्त राइफल बरामद हुई है। इस दौरान आतंकियों को बचाने के लिए शरारती तत्वों ने जमकर पथराव भी किया, लेकिन सुरक्षाबलों ने घेराबंदी टूटने नहीं दी और आतंकियों की गोलियों का जवाब देने के साथ पथराव कर रही भीड़ पर भी काबू पाया।

पुलिस ने हालांकि मसूद अजहर के भतीजे की मौत की आधिकारिक पुष्टि नहीं की है, लेकिन जैश-ए-मोहम्मद का एक संदेश पकड़ा गया है, जिसमें मसूद अजहर के रिश्तेदार ने उस्मान की मौत का जिक्र करते हुए जल्द ही जम्मू कश्मीर में किसी बड़े सनसनीखेज हमला कर उसकी मौत का बदला लेने की धमकी दी है। उस्मान के साथ मारे गए दूसरे आतंकी का नाम शौकत गनई है और वह दक्षिण कश्मीर का ही रहने वाला है।

आइजीपी कश्मीर एसपी पाणि ने देर रात दैनिक जागरण को बताया कि मारे गए दोनों आतंकियों के शव बुरी तरह जले हुए हैं। उनकी पहचान का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन यह एक बड़ी कामयाबी है, क्योंकि बीते दिनों त्राल और उसके साथ सटे इलाकों में सुरक्षा शिविरों पर जो आतंकियों के स्टैंड ऑफ हमले हुए थे, उनके लिए यही माड्यूल जिम्मेदार था।

आइजीपी ने बताया कि त्राल और नौगाम में बीते दिनों सुरक्षाबलों के शिविरों पर हुए स्टैंड ऑफ अटैक (जिनमें स्नाइपर शूटिंग हुई थी) के बाद हमने अपने खुफिया नेटवर्क को और मजबूत बनाया। ऐसे में मंगलवार दोपहर को हमें सूचना मिली कि आतंकियों का एक दल त्राल में मंडूरा के पास छन्नकितर गांव में छिपा हुआ है। इसके आधार पर तलाशी अभियान चलाया गया और मुठभेड़ शुरू हो गई।

सूत्रों ने बताया कि तीन आतंकी जिनमें हांडूरा (त्राल) का रहने वाला शौकत गनई, पांजू (त्राल) का फैयाज और पाकिस्तानी आतंकी उस्मान एक ग्रामीण मुम्मा मीर के मकान में छिपे हुए थे। सुरक्षाबलों ने जैसे ही मकान की घेराबंदी कर अंदर छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी जवाबी फायर किया।उस्मान से पहले मसूद अजहर का एक अन्य भतीजा तल्हा रशीद छह नवंबर 2017 को पुलवामा जिले के अगलर कंडी इलाके में अपने दो अन्य साथियों के साथ मारा गया था। करीब चार महीने तक उत्तरी कश्मीर में सक्रिय रहा था और उसके बाद वह दक्षिण कश्मीर में आ गया था। उसके ठिकाने की निशानदेही करने के बाद उसे मार गिराने का अभियान दो दिनों की कवायद के बाद तैयार किया गया था। तल्हा रशीद के पास से भी पुलिस ने एम 4 कार्बाइन राइफल बरामद की थी।