Breaking News देश राजनीती होम

राहुल गांधी का प्रधानमंत्री पर हमला , कहा : राफेल में ‘भ्रष्टाचार’ के सबूत मिटाने को रात 2 बजे हटाए गए CBI डायरेक्टर

सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने को सीधे-सीधे राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार से जोड़ते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधीने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। गांधी ने गुरुवार शाम पौने 6 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रधानमंत्री पर राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार से जुड़े अहम सबूतों को नष्ट करने का गंभीर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सीबीआई डायरेक्टर को रात 2 बजे हटाया गया, जिसकी मुख्य वजह राफेल डील में ‘भ्रष्टाचार’ है।राहुल गांधी ने कहा कि सीबीआई डायरेक्टर की नियुक्ति 3 लोगों की समिति करती है- पीएम, विपक्ष के नेता और सीजेआई। उन्होंने कहा, ‘सीबीआई डायरेक्टर को प्रधानमंत्री ने रात के 2 बजे हटाया, यह भारत के संविधान, सीजेआई, विपक्ष के नेता और भारत के लोगों का अपमान है। यह गैरकानूनी और आपराधिक है।’ उन्होंने एम. नागेश्वर राव को सीबीआई का अंतरिम डायरेक्टर बनाए जाने पर भी सवाल उठाए।

कांग्रेस अध्यक्ष ने वर्मा को छुट्टी पर भेज जाने को राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने की कोशिश बताते हुए कहा, ‘सीबीआई राफेल डील में प्रधानमंत्री की भूमिका और कथित भ्रष्टाचार की जांच करने जा रही थी, इसीलिए रात 2 बजे सीबीआई डायरेक्टर को प्रधानमंत्री ने निकाल दिया। अगर राफेल में जांच हो गई तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। देश को पता चल जाएगा कि प्रधानमंत्री ने भ्रष्टाचार के जरिए अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाया। अंबानी की जेब में पैसे डाले।’ राहुल गांधी से जब प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह पूछा गया कि उन्हें कैसे जानकारी मिली कि सीबीआई डायरेक्टर राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार की जांच करने वाले थे, तो उन्होंने कहा कि यह बात तो सबको पता है, इसी तरह मुझे भी इसकी जानकारी मिली।

गांधी ने कहा, ‘सीबीआई डायरेक्टर के कमरे को सील किया गया। कई अहम दस्तावेज लिए गए…इसीलिए रात 2 बजे ऐसा किया गया। सबूतों को दबाने की कोशिश की जा रही है। अब जासूसी की कोशिश हो रही है।’ बता दें कि गुरुवार को आलोक वर्मा के घर के पास सुबह कथित जासूसी के आरोप में हिरासत में लिए गए 4 लोगों की खबर आई। इस खबर के बाद विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार पर हमला बोल दिया। हालांकि हिरासत में लिए गए लोगों के बारे में बाद में सरकार ने सफाई दी और उन्हें इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) का अधिकारी बताया है।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘HAL से कॉन्ट्रैक्ट छीनकर 30 हजार करोड़ रुपये छीनकर अंबानी की जेब में डाले गए। उसी भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने के लिए एक के बाद एक कई गलत कदम उठाए जा रहे हैं। लेकिन आखिर में चोरी पकड़ी जाएगी। देश पूरी बात समझ रहा है।…देश के चौकीदार ने चोरी की और नरेंद्र मोदी आखिर में पकड़े जाएंगे।’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को पता है कि राफेल डील की जैसे ही जांच हुई, वैसे ही वह खत्म हो जाएंगे।