देश राजनीती होम

शरद पवार बोले- 2019 में मेरी भूमिका अहम, राफेल को बताया देश हित में

एनसीपी नेता शरद पवार ने 2019 में बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए गैर-बीजेपी पार्टियों के गठबंधन पर जोर दिया है। मुंबई में एक निजी चैनल के कार्यक्रम में पवार ने कहा कि वह राजनीति में गठबंधन के पक्षधर हैं और सभी राज्यों में गठबंधन चाहते हैं। एनसीपी चीफ ने कहा कि 2019 में गैर बीजेपी दलों को एक मंच पर लाने में उनकी मुख्य भूमिका होगी। इस दौरान राफेल को देश के लिए अच्छा लड़ाकू विमान बताते हुए पवार ने कहा कि इसकी कीमत को लेकर लोगों के मन में जो शंकाएं हैं, उनका समाधान होना चाहिए। इस दौरान सीबीआई विवाद को लेकर भी पवार ने मोदी सरकार को घेरा। 2019 लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मात देने के लिए पवार ने गठबंधन को जरूरी बताया। पवार ने कहा, ‘यूपी में एसपी-बीएसपी का साथ आना जरूरी है। महाराष्ट्र में भी महागठबंधन होना चाहिए। बीजेपी को रोकने के लिए गैर-बीजेपी दलों का साथ आना जरूरी है। बीजेपी ने भी कभी अकेले चुनाव नहीं लड़ा।’2019 लोकसभा चुनावों में अपनी भूमिका को अहम बताते हुए पवार ने दावा किया कि उनकी सभी पार्टियों से अच्छे संबंध हैं। पवार ने कहा, 2019 में विपक्षी नेताओं को एक मंच पर लाने में मेरी मुख्य भूमिका होगी। मेरी सभी पार्टियों से अच्छे संबंध हैं। मैं गैर-बीजेपी दलों का गठबंधन बनाने की कोशिश में जुटा हूं। राफेल को अच्छा लड़ाकू विमान बताते हुए पवार ने कहा कि यह यह देश की रक्षा के हित में है। पवार ने कहा, राफेल की कीमत बढ़ने को लेकर सवाल उठते हैं और लोगों के मन मे आशंका है। इसका समाधान होना चाहिए। इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बोफोर्स पर बीजेपी ने जेपीसी की मांग की थी, अब राफेल पर जेपीसी की मांग क्यों नहीं मानती। सीबीआई के भीतर मची रार को लेकर भी पवार ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा। पवार ने दो टूक कहा कि अगर केंद्र की सरकार साफ-सुथरी होती तो ऐसे हालात पैदा नहीं होते। सीबीआई विवाद पर पीएम मोदी की चुप्पी को लेकर भी पवार ने सवाल खड़े किए। एनसीपी चीफ ने कहा कि सीबीआई के वरिष्ठ अधिकारी पर आरोप है लेकिन पीएम चुप हैं। पवार ने आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी के मंत्री सिर्फ हस्ताक्षर करते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी के पास टीम तो है लेकिन क्षमता नहीं है।