देश होम

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग

केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर के कपाट आज शाम खुलेंगे। जैसे-जैसे मंदिर के कपाट खुलने का समय नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे तनाव भी बढ़ता जा रहा है।अब उग्र प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए हैं। प्रदर्शनकारियों ने मीडिया के वाहनों को भी निशाना बनाया है। वहीं, पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 30 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा हर आयु की महिलाओं के मंदिर के प्रवेश पर लगी पाबंदी हटाने के फैसला के बाद पहली बार मंदिर के कपाट खुल रहे हैं। हालांकि कोर्ट के फैसले के बावजूद महिलाओं के मंदिर में प्रवेश को रोकने की कोशिश की जा रही है। कोर्ट के फैसले के चलते हर उम्र की महिला श्रद्धालु भगवान अयप्पा के दर्शन के लिए मंदिर परिसर में जुटने लगी हैं। वहीं, दूसरी ओर वो लोग भी वहां डेरा जमाए बैठे हैं, जो महिलाओं के प्रवेश के सख्त खिलाफ है।सबरीमाला में महिलाओं के खिलाफ महिलाएं ही मैदान में उतर आईं हैं। जहां बड़ी संख्या में महिलाएं 10-50 साल की उम्र की महिलाओं के मंदिर प्रवेश के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं। ये प्रदर्शन निलक्कल बेस कैंप के पास हो रहा है, जो कि मंदिर परिसर से करीब 20 किलोमीटर दूर स्थित है । मंदिर तक जाने वाले रास्ते से ही 10 से 50 वर्ष के उम्र के बीच की महिलाओं को वापस लौटाया जा रहा है। भगवान अयप्पा की सैकड़ों महिला भक्त निलक्कल में कई वाहनों को रोक-रोकर चेक कर रही हैं। इस दौरान उन्होंने मासिक धर्म की उम्र वाली महिलाओं को आगे जाने से रोक दिया। जिसके चलते तनाव और बढ़ गया है।हालात न बिगड़ें इसके लिए पुलिस भी पूरी सावधानी बरत रही है।